शराब के शौकीन सावधान!, कैशबैक ऑफर का झांसा देकर कोरबा में ऐसे हो रही ठगी
Korba News in Hindi

शराब के शौकीन सावधान!, कैशबैक ऑफर का झांसा देकर कोरबा में ऐसे हो रही ठगी
पुलिस ने सतर्क रहने की अपील की है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पेटीएम और फोन-पे का उपयोग करने वालों को कैशबैक ऑफर और केवाईसी के नाम पर ठगी का शिकार बनाया जा रहा है. पश्चिम बंगाल से कुछ दिनों से इनके उपयोगकर्ताओं को 700, 1200, 3600 रुपए का कैशबैक ऑफर का झांसा दिया जा रहा है.

  • Share this:
कोरबा. ठगी के नए-नए तरीके ईजाद करने वाले कोरोना जैसी संक्रामक महामारी (Coronavirus) के वक्त में भी अपना महाजाल बिछाने से नहीं चूक रहे हैं. राहत पहुंचाने के लिए नगद राशि देने की बात हो या किसी माध्यम से लेन-देन का मौका हो, कैशलेस होने का फायदा ठग उठा रहे हैं. जरा सी सावधानी हटी और पल भर में जेब खाली हो सकती है. पेटीएम (Paytm), फोन-पे (Phone Pay) और ऑनलाइन शराब (Liquor) मंगाना अब ठगों के निशानें पर आ गया है. कोरबा पुलिस (Korba Police) और साइबर सेल ने जिलावासियों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं.

पेटीएम और फोन-पे का उपयोग करने वालों को कैशबैक ऑफर और केवाईसी के नाम पर ठगी का शिकार बनाया जा रहा है. पश्चिम बंगाल से कुछ दिनों से इनके उपयोगकर्ताओं को 700, 1200, 3600 रुपए का कैशबैक ऑफर का झांसा दिया जा रहा है. कस्टमर केयर का कर्मचारी बनकर इस तरह का ऑफर जीतने वालों का हवाला देकर यूपीआई ग्राहक को फोन कर नोटिफिकेशन भेजने के बाद एसएमएस में दिए गए लिंक पर क्लिक कर अपने फोन-पे, पेटीएम खाते की जानकारी भरने कहा जाता है जिसमें कैशबैक की रकम डाली जा सकें.

ऐसे की जा रही ठगी



जैसे ही लिंक खोलकर फोन-पे या पेटीएम का आईडी पासवर्ड और डिटेल डाला जाता है, खाते से 30 हजार या 40 हजार तत्काल कट जाते हैं. इस तरह के मामले बढ़ने के साथ ही ऑनलाइन फ्रॉड के प्रति सजग करने के लिए जिला पुलिस में साइबर सेल प्रभारी दुर्गेश राठौर ने जिले वासियों को आगाह किया है कि वे इस तरह की किसी भी ऑफर को स्वीकार न करें. मालूम हो कि अभी लॉकडाउन के चलते शराब दुकानों को प्रतिबंधित कर दिया गया था. फिर सरकार ने शराब दुकानों को लॉकडाउन अवधि में खोलने की छूट प्रदान कर दी. सोशल डिस्टेंसिंग और भीड़-भाड़ से बचने के लिए होम डिलीवरी की सुविधा भी शुरू की है.
इस होम होम डिलीवरी की आड़ में ठगी का कारोबार शुरू हो गया है. साइबर सेल के मुताबिक फेसबुक में टीपी नगर के अंग्रेजी शराब से होम डिलीवरी की सुविधा उपलब्ध होने और इसके लिए मोबाइल नंबर 8739862409 पर संपर्क करने का भी डिस्प्ले किया जा रहा है. साइबर सेल प्रभारी दुर्गेश राठौर ने इस पोस्ट पर जिलावासियों को सजग किया है कि कोई भी नागरिक ऐसे ऑनलाइन शराब ना लें क्योंकि वे ठगी का शिकार हो सकते हैं.

हाल ही में रामपुर पुलिस चौकी क्षेत्र में एक युवक ऑनलाइन शराब मंगाने के चक्कर में 15 हजार रुपए गंवा बैठा. पेटीएम से 2 रुपए ट्रांसफर करते ही लगा 4600 का चूना आदर्शनगर कुसमुंडा निवासी ट्रांसपोर्टर विजय सिंह को लगा. दरअसल, उसने 11 मई को 1 कोरियर डीटीडीसी कोरियर सर्विस के माध्यम से रायपुर के तेलीबांधा के लिए भेजा था. यह कोरियर प्राप्त हुआ है या नहीं, इसकी जानकारी लेने के लिए उसने डीटीडीसी कोरियर के रायपुर शाखा का नंबर गूगल से सर्च कर हासिल किया. 13 मई को उक्त नंबर पर फोन करने के बाद कॉल बैक किसी दीपक कुमार ने किया. फिर विजय से कोरियर संबंधी जानकारी ली. दीपक ने खुद को कोरियर कर्मी बताकर 2 रुपए के लिए कोरियर का रुकना बताया. दीपक ने विजय सिंह को लिंक भेजकर 2 रुपए ट्रांसफर करने के लिए कहा. विजय ने भरोसा कर जैसे ही 2 रुपए ट्रांसफर किया उसके खाता में जमा 4600 रुपए आहरित हो गए. ठगी का आभास होते ही विजय ने कुसमुंडा थाना पहुंचकर लिखित शिकायत दर्ज कराई.

ये भी पढ़ें: 
Lockdown 4.0: रायपुर में दुकानों का दिन और समय तय, जानें क्या खुलेगा और कहां रहेगी पाबंदी 

 

लॉकडाउन 4.0: Swiggy-Zomato से करें ऑनलाइन खाना आर्डर, रायपुर में लेफ्ट-राइट सिस्टम से खुलेंगी दुकानें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading