अपना शहर चुनें

States

कोरबा में बदले मौसम ने डाला लोगों की हेल्थ पर असर, रोज बढ़ रही 50 मरीजों की संख्या

जिला अस्पताल में गरीबों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाए उपलब्ध करा पाना प्रशासन के लिए चुनौती भरा काम है.
जिला अस्पताल में गरीबों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाए उपलब्ध करा पाना प्रशासन के लिए चुनौती भरा काम है.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) में बदले मौसम का असर लोगों की हेल्थ पर पड़ रहा है.

  • Share this:
कोरबा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) में बदले मौसम का असर लोगों की हेल्थ पर पड़ रहा है. बारिश के बाद उमस के चलते लोग मौसमी बीमारियों (Seasonal Diseases) के शिकार बन रहे हैं. जिला शासकीय अस्पताल में मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है. औसत दिनों की तुलना में प्रतिदिन 50 से 100 मरीज़ (Patients) ज्यादा जिला अस्पताल में इलाज के पहुंचे रहे हैं. इसमें अधिकांश मरीज़ मौसमी बीमारियों से परेशान हैं.

कोरबा (Korba) में पिछले कुछ समय से कभी बारिश तो कभी तेज धूप और हल्की ठंड मौसम में बदलाव हो रहा है. जिला अस्पताल (Hospital) में गरीबों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाए उपलब्ध करा पाना प्रशासन के लिए चुनौती भरा काम है. जिला अस्तपाल कहने को भले ही 100 बेड अस्पताल है, लेकिन यहां हर समय औसतन 150 मरीज़ इलाज कराने भर्ती रहते हैं. मौसम में बदलाव के कारण सभी बेड फुल हैं.

मरीजों को नहीं मिल रहा बेड
कोरबा जिला अस्पताल में हालात यह है कि पीड़ित मरीजों के यह पहुंचने पर बेड खाली नहीं मिलते. ओपीडी में प्रतिदिन औसतन 400 के करीब मरीज पहुंच रहे हैं. ये मरीज सर्दी, जुकाम, वायरल बुख़ार, डेंगू, मलेरिया, उल्टी दस्त, टायफाइड जैसी मौसमी बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं. जिला अस्पताल के अरएमओ डॉ. दिव्य का कहना है कि मौसम में बदलाव के कारण मरीजों की संख्या बढ़ रही है. लोगों को ऐसे मौसम में विशेष ऐतिहात बरतनी चाहिए. मरीज राजाराम का कहना है कि अस्पताल में सुविधा को लेकर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.




ये भी पढ़ें: केन्द्रीय मंत्री राम विलास पासवान से मिले CM भूपेश बघेल, रखी ज्यादा धान खरीदने की मांग 

ये भी पढ़ें: इमरान खान की क्या हैसियत जो हमारे देश के मामलों में बोलें: CM भूपेश बघेल 


अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज