Assembly Banner 2021

लोकसभा चुनाव: क्या इस सीट से डॉ. चरण दास महंत की पत्नी होंगी कांग्रेस का 'Winning Face'?

demo pic

demo pic

कांग्रेस के कद्दावर नेता डॉ.चरण दास महंत अविभाजित मध्यप्रदेश के समय से केंद्र और राज्य में मंत्री पद पर रहे. इसके साथ प्रदेश के कार्यकारी अध्य्क्ष के साथ चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष रहते हुए प्रदेश में कांग्रेस को पूर्ण बहुमत के साथ जीत दिलाने में उन्होने अहम भूमिका निभाई. ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगी कि दो महीने बाद होने वाले लोकसभा चुनाव में हाईप्रोफाइल कोरबा सीट से प्रत्याशी कौन होगा.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले के सारागांव में 13 दिसंबर 1954 को जन्मे कांग्रेस का बड़ा चेहरा पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. चरण दास महंत 2018 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के बाद पार्टी ने बड़ी जिम्मेदारी देते हुए विधानसभा अध्यक्ष की बड़ी जिम्मेदारी से नवाज़ा है. जांजगीर लोकसभा सीट से परिसीमन के बाद कोरबा लोकसभा सीट बनने के बाद 2014 में बीजेपी के सांसद डॉ. बंशीलाल महतो ने बेहद ही काम अंतर से हार कर बाद भी अपनी कर्म भूमि से लगाव हमेशा से रहा है. लेकिन प्रदेश के विधानसभा अध्यक्ष बनने के बाद लोकसभा चुनाव में कोरबा लोकसभा सीट से कौन होगा कांग्रेस प्रत्याशी इस पर चर्चा का गर्म है. राजनितिक हलकों में जहां डॉ.चरण दास महंत की धर्मपत्नी ज्योत्स्ना महंत की कोरबा लोक सभा सीट से चुनाव लड़ने की चर्चा है, वहीं इस खुद चरण दास महंत का कहना है कि ना मैंने उनका नाम आगे बढ़ाया है और मैं ना चाहता हूं की मेरी धर्मपत्नी चुनाव लड़े.

कांग्रेस कर रही ये दावा:

कोरबा कांग्रेस कमेटी शहर अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद की माने तो चरण दास महंत की अपने विधानसभा के साथ लोकसभा में अच्छी पकड़ है. जनता के साथ उनका जुड़ाव बहुत अच्छा है. उनका जनसंपर्क जारी है. पार्टी के दिशाना निर्देश पर जिसको प्रत्याशी घोषित करेगी उसका पूरी तरही से पार्टी सपोर्ट करेंगी. अभी कोई नाम की आधिकारिक घोषणा नहीं हुई है. कांग्रेस में जिस तरह विधानसभा प्रत्याशी चयन में जो पारदर्शीय प्रक्रिया अपनाई गई थी लोकसभा चुनाव में भी उसे इस्तेमाल किया जाएगा. आने वाले समय में पार्टी से जो गाइड लाइन जारी होगी कार्यकर्ता उसे मानेंगे और पार्टी को जीत दिलाने एक साथ मिलकर काम करेंगे.



कोरबा में कांग्रेस को पूरी उम्मीद है की कांग्रेस का कोई भी प्रत्याशी होगा उसकी जीत पक्की है. जिला कांग्रेस अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद का दावा है कि विधानसभा चुनाव का फायदा कांग्रेस को लोकसभा में भी मिलेगा. जो कांग्रेस ने जनघोषणा पत्र जारी किया गया था उस पर कांग्रेस तेज़ी के साथ अमल कर रही. प्रदेश के साथ पूरे देश में कांग्रेस का माहौल है.
सामने आ रहे है ये नाम:

ज्योत्स्ना महंत के साथ जांजगीर लोकसभा की पूर्व सांसद करुणा शुक्ला, प्रदेश के कद्दावर नेता स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव के करीबी युवा चेहरा अदितेश्वर शरण सिंह देव, बस्तर यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति कृष्ण कुमार चंद्रा के नाम भी सामने आ रहे है. राजनीतिक विश्लेषक मनोज शर्मा की मानें तो कोरबा डॉ. चरण दास महत की राजीतिक कर्म भूमि रही है. कोरबा से उनका नाता गहरा रहा है.

ये माना जा रहा है कि विधानसभा अध्यक्ष बनने के बाद कोरबा लोकसभा सीट से वो स्वयं दावेदार नहीं होंगे. चरण दास महंत के निर्वाचन क्षेत्र विधान या लोकसभा या नगरीय निकाय चुनाव में सभी में उनकी पत्नी ज्योत्स्ना महंत निरंतर सक्रिय रही है. महिलाओं के बीच में भी उन्होने अपनी एक अलह पहचान बनाई है. ये भी माना जा रहा है चरण दास महंत की राय के बिना कोरबा लोक सभा सीट का प्रत्याशी तय नहीं होगा.

राजनीति में बदलाव के बाद पूर्व सांसद करुणा शुक्ला भी दावेदारी कर सकती है. सूबे में बदलाव के बाद कोरिया नरेश स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव के करीबी युवा चेहरा अदितेश्वर शरण सिंह देव भी कोरबा लोकसभा से दावेदारी कर सकते है.

ये भी पढ़ें:

रायपुर नगर निगम की MIC जल्द हो सकती है भंग, ये है वजह

अंतागढ़ टेपकांड: राजेश मूणत की जमानत याचिका पर होगी सुनवाई, केस डायरी पेश करेगी पुलिस 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स       
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज