होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

OMG: डाइनिंग रूम के सोफा को कोबरा सांप ने बना रखा था ठिकाना, बाल-बाल बचे घरवाले

OMG: डाइनिंग रूम के सोफा को कोबरा सांप ने बना रखा था ठिकाना, बाल-बाल बचे घरवाले

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक कोबरा ने घर के सोफा को अपना ठिकाना बना रखा था.

छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक कोबरा ने घर के सोफा को अपना ठिकाना बना रखा था.

Snake In Sofa: घर के डाइनिंग रूम में रखे सोफे को सांप ने अपना ठिकाना बना रखा था. घर के लोगों को इस बात की भनक रात के करीब 2 बजे लगी जब सांप ने आवाज देना शुरू किया. सांप के दहशत से पूरा परिवार डर गया था.

हाइलाइट्स

सोफा में सांप पाये जाने की ये घटना कोरबा की है
सांप को रेस्क्यू करने के बाद जंगल में छोड़ दिया गया है
घर के लोगों ने जब सांप को देखा तो सभी हैरान रह गए

 रिपोर्ट- अब्दुल असलम

कोरबा. बरसात के मौसम में सांप सहित अन्य विषैले जंतु लगातार घरों को अपना ठिकाना बना रहे हैं. ऐसा ही एक मामला छत्तीसगढ़ से आया है जहां विषैले सांप ने एक घर में शरण ले रखा था. खास बात ये है कि इस सांप ने सोफा को अपना घर बनाया था, जिसे लोग दिनचर्या में सबसे अधिक उपयोग में लाते हैं.

सोफा में सांप मिलने की घटना शहर के ट्रांसपोर्ट नगर डीडीएम रोड की है. रात को करीब 2 बजे घर के लोगों को पता चला का सांप उनके घर में हैं, तब डर से सभी लोग कांप उठे. जब घर के सदस्यों ने रूम के सोफे मे विषैला कोबरा सांप को घुसा देखा. सांप को देखते ही परिवार के सदस्यों के होश उड़ गए. परिवार के मुखिया आरीफ द्वारा इसकी सूचना आर.सी.आर.एस संस्था के अध्यक्ष अविनाश यादव को दी गई. अविनाश यादव रात्रि 2:30 बजे मौके पर पहुंचे और देखा कि रूम में लगे सोफे में एक तीन फिट लंबा विषैला कोबरा सांप घुसा हुआ है.

इसके बाद अविनाश यादव द्वारा काफी मेहनत के बाद सोफे को फाड़ कर सांप को सुरक्षा के साथ निकालते हुए रेस्क्यू कर लिया गया. घर के मुखिया आरीफ  ने बताया कि वो सांप को पहले भी घर के आसपास देख चुके थे पर उन्होंने उतना ध्यान नहीं दिया. देर रात सोफे से अजीब तरह की आवाज आने के बाद जब उन्होंने सोफे को देखा तब ही उन्हें यह पता चला कि उसके अंदर विषैला कोबरा सांप मौजूद है.

लोकल भाषा में इस सांप को गेहुआं या डोमी कहा जाता है. ऐसे में उन्होंने किसी भी तरह का जोखिम न उठाते हुए इसकी सूचना सर्प मित्र आर.सी.आर.एस संस्था के अध्यक्ष अविनाश यादव को दी. अविनाश यादव के द्वारा देर रात्रि पहुंच कर पूरी सुरक्षा के साथ सांप को रेस्क्यू किया गया और सांप को दूर के जंगल में सुरक्षित छोड़ दिया गया. घर के मुखिया आरीफ  ने आर.सी.आर.एस संस्था के काम की सराहना करते हुए उनके अच्छे काम के लिए आभार प्रकट किया.

Tags: Chhattisagrh news, OMG News, Snake

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर