Assembly Banner 2021

कोरबा: शादी करने गए थे महाराष्ट्र, रिटर्न गिफ्ट में मिला कोरोना, जानें पूरा मामला 

परिवार के कुछ और सदस्यों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. (Demo Pic)

परिवार के कुछ और सदस्यों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. (Demo Pic)

बताया जा रहा है कि 31 मई को वह निजी साधन से महाराष्ट्र से कोरबा लौटा था. प्रशासन ने उन्हें होटल सनसाइन जमनीपाली के पेड क्वारंटाइन सेंटर में रखा था. दंपत्ति के अतिरिक्त उनके 3 अन्य संबंधितों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है.

  • Share this:
कोरबा. लॉकडाउन (Lockdown) के बीच में कटघोरा क्षेत्र का युवक कोरोना प्रभावित राज्य महाराष्ट्र (Maharashtra) से शादी कर दुल्हन ले आया. कोरबा लौटने पर दोनों को जमनीपाली के पेड क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था. इनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर दोनों को कोविड अस्पताल भेज दिया गया है. जानकारी के मुताबिक कटघोरा क्षेत्र में रहने वाले एक युवक की शादी महाराष्ट्र की युवती से तय हुई थी. इस बीच लॉकडाउन के कारण शादी की तारीख टाल दी गई, लेकिन जैसे ही लॉकडाउन में ढिलाई मिली युवक अपनी दुल्हन को लेने महाराष्ट्र पहुंच गया और शादी कर अपने साथ कटघोरा ले आया. बताया जा रहा है कि 31 मई को वह निजी साधन से महाराष्ट्र से कोरबा लौटा था. प्रशासन ने उन्हें होटल सनसाइन जमनीपाली के पेड क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Center) में रखा था. दंपत्ति के अतिरिक्त उनके 3 अन्य संबंधितों की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है. 

होटल में बिठाकर करा रहे थे नाश्ता, जुर्माना

कोरोना हॉट स्पॉट बने कटघोरा शहर में छूट मिलते ही कुछ व्यवसायी मनमानी पर उतर आए हैं. इनकी लापरवाही दूसरों के लिए परेशानी का सबब बन सकती है. अनलॉक का बेजा फायदा और कोविड-19 के प्रोटोकॉल की अवहेलना कर रहे होटल व्यापारियों पर राजस्व और नगर पालिका की टीम ने जुर्माना किया है. कटघोरा बस स्टैण्ड स्थित नर्मदा स्वीट्स, शंभू समोसा सेंटर और विष्णु समोसा भंडार में ग्राहकों को होटल के भीतर बैठाकर चाय-नाश्ता कराया जा रहा था. टीम ने नर्मदा स्वीट्स पर 500 रुपये और शंभू समोसा व विष्णु समोसा भंडार के संचालक पर 200-200 रुपये का जुर्माना किया है. एसडीएम सूर्यकिरण तिवारी के निर्देश पर तहसीलदार रोहित सिंह के मार्गदर्शन में पूरी कार्रवाई की गई. अमले ने सभी होटल संचालकों को सख्त समझाइश देते हुए ग्राहकों को होटल के भीतर प्रवेश नहीं देने और लेन-देन के दौरान दूरी बनाए रखने सहित ग्राहक और दुकानदारों के लिए मास्क अनिवार्य किया है.



कोरबा शहर में नहीं हो रही जांच
प्रशासन के आदेश से पहले ही गुलजार हो चुके होटल, ठेले और गुमटियों में भी नियमों का पालन नहीं हो रहा है. कोरबा शहर में तो संक्रमण के खतरे को दरकिनार कर नियमों का खुला उल्लंघन हो रहा है. कोसाबाड़ी से लेकर सीतामणी तक होटल और ठेला-खोमचा में पार्सल सुविधा की बजाय सामने खड़े होकर ग्राहकों को सामग्री परोसी जा रही है. यह सब सामान्य तौर पर नजर आने के बाद भी नगर निगम और प्रशासन की टीम कार्रवाई नहीं कर रही है. प्रशासन ने पान ठेला और दुकान खोलने की सशर्त अनुमति दी है. दुकानदार सामग्री तो बेच सकते हैं लेकिन मादक पदार्थों का उपयोग सार्वजनिक स्थान व दुकान के सामने प्रतिबंधित है. इसके बाद भी पान ठेला के सामने लोग पान-गुटखा की पीक मारने के साथ धुएं का छल्ला उड़ाते देखे जा सकते हैं.

ये भी पढ़ें: 

COVID-19: दिल्ली क्राइम ब्रांच के ASI की कोरोना से मौत, बेटा भी है पॉजिटिव 

Weather Update: बस्तर में मानसून की एंट्री, झमाझम बारिश से रायपुर हुआ तरबतर 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज