विद्युत गृह स्कूल में आधी रात तक पर्चा बांटने के मामले में शिक्षा विभाग को मिला शो कॉज नोटिस

मामले में 13 बिन्दुओं में जवाब मांगने के बाद इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीईओ समेत शिक्षा विभाग के 3 लोगों को शो कॉज नोटिस जारी किया गया है.

Abdul Aslam | News18 Chhattisgarh
Updated: April 19, 2019, 4:18 PM IST
विद्युत गृह स्कूल में आधी रात तक पर्चा बांटने के मामले में शिक्षा विभाग को मिला शो कॉज नोटिस
विद्युत गृह स्कूल में आधी रात तक पर्चा बांटने के मामले में शिक्षा विभाग को मिला शो कॉज नोटिस
Abdul Aslam
Abdul Aslam | News18 Chhattisgarh
Updated: April 19, 2019, 4:18 PM IST
छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में पिछले बीते 8 अप्रैल को विद्युत गृह स्कूल में आधी रात तक पर्चा बांटने वाले मामले को लेकर प्रशासन ने जांच शुरू कर दी है. 13 बिन्दुओं में जवाब मांगने के बाद इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीईओ समेत शिक्षा विभाग के 3 लोगों को शो कॉज नोटिस जारी किया गया है.

कलेक्टर किरण कौशल ने इस मामले के जांच का जिम्मा अपर कलेक्टर एनसी नैरोजी को दिया है. इस मामले में शिक्षा विभाग से राज्य से प्राप्त प्रश्न पत्रों के बजाए अपने प्रश्र पत्र छापे गए और मुद्रक कौन था समेत 13 बिन्दुओं पर सवाल पूछे गए हैं. प्रशासन ने शिक्षा विभाग से यह भी पूछा है कि आचार संहिता में आधी रात तक पर्चों के वितरण करने की सूचना प्रशासन को क्यों नहीं दी गई.

कलेक्टर कार्यालय से जिला शिक्षा अधिकारी सतीश पांडेय, एपीओ जीपी साहू और मुख्य लिपिक एसके कौशिक को शो कॉज नोटिस दिया गया है. नोटिस में जावक पंजी, मुद्रण संबंधी समिति गठन का रजिस्टर, विद्युत गृह में बांटे गए प्रश्न पत्रों की सीडी या हार्डकॉपी समेत मुद्रण संबंधी निविदा और प्रिटिंग के लिए जारी किए गए कार्यादेश और नोटशीट लेकर 29 अप्रैल को खुद उपस्थित होकर बयान देने को कहा है.

विभाग ने इस मामले में जवाब दिया है कि ऐसी परिस्थितियां मुद्रक की गलती से हुई है. विभाग की ओर से दिए गए विवरण के आधार पर मेघा ग्राफिक्स, लिंक रोड अग्रेसन चौक, बिलासपुर और खण्डेलवाल आफसेट प्रिंटर्स, तेलीपारा रोड बिलासपुर को भी नोटिस जारी कर बयान के लिए बुलाया है. 9 अप्रैल को विद्युत गृह स्कूल में रात के लगभग 12 बजे तक विभागीय अफसरों ने मिलकर सभी 118 संकुल प्रभारी (सीएसी) या उनके प्रतिनिधियों को पर्चों का वितरण किया.

राज्य स्तरीय आकलन (एसएलए) योजना के तहत राज्य भर में पहली से आठवीं तक के छात्रों के लिए प्रश्न पत्रों के ब्लू प्रिंट भिजवाए गए हैं. ऐसे में गलत पर्चा बंटने की बात कही जा रही है. विभाग का कहना था कि प्रिंटर्स ने गलत प्रश्नपत्र प्रिंट कर भेज दिया था, जिसे सुधारने के लिए रातों-रात पर्चों का वितरण किया गया. आधी रात को पर्चा वितरण वाले मामले में डीईओ समेत तीन को शो कॉज नाटिस जारी किया गया है.

ये भी देखें:- VIDEO: ऐसे व्हीलचेयर में मतदान करने पहुंची 87 साल की बुजुर्ग महिला 

ये भी पढ़ें:- बारात लेकर लौट रही गाड़ी पलटी, 7 की मौत, 12 गंभीर रूप से घायल ये भी पढ़ें:- शादी का भोज खाने के बाद 100 से ज्यादा की तबियत बिगड़ी, 24 की हालत गंभीर

क क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स   
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

वोट करने के लिए संकल्प लें

बेहतर कल के लिए#AajSawaroApnaKal
  • मैं News18 से ई-मेल पाने के लिए सहमति देता हूं

  • मैं इस साल के चुनाव में मतदान करने का वचन देता हूं, चाहे जो भी हो

    Please check above checkbox.

  • SUBMIT

संकल्प लेने के लिए धन्यवाद

जिम्मेदारी दिखाएं क्योंकि
आपका एक वोट बदलाव ला सकता है

ज्यादा जानकारी के लिए अपना अपना ईमेल चेक करें

डिस्क्लेमरः

HDFC की ओर से जनहित में जारी HDFC लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (पूर्व में HDFC स्टैंडर्ड लाइफ इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड). CIN: L65110MH2000PLC128245, IRDAI R­­­­eg. No. 101. कंपनी के नाम/दस्तावेज/लोगो में 'HDFC' नाम हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (HDFC Ltd) को दर्शाता है और HDFC लाइफ द्वारा HDFC लिमिटेड के साथ एक समझौते के तहत उपयोग किया जाता है.
ARN EU/04/19/13626

News18 चुनाव टूलबार

  • 30
  • 24
  • 60
  • 60
चुनाव टूलबार