अपना शहर चुनें

States

ज्योत्सना महंत: पति के राजनीतिक सफर के सहारे संसद का रास्ता तय करने की जुगत

बीजेपी ने कहा- कांग्रेस में द्वंद युद्ध चल रहा है.
बीजेपी ने कहा- कांग्रेस में द्वंद युद्ध चल रहा है.

ज्योत्सना महंत के पति डॉ. चरणदास महंत कांग्रेस के बड़े नेता हैं, इसके अलावा उनके पास राजनीतिक उपलब्धि गिनाने के लिए कुछ भी नहीं है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद जब विधानसभा अध्यक्ष के लिए डॉ. चरणदास महंत का नाम तय हुआ, तब से ही अटकलें लगनी शुरू हो गईं थीं कि कांग्रेस उनकी पत्नी ज्योत्सना महंत को कोरबा लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाएगी. हालांकि इसका ऐलान छत्तीसगढ़ में कांग्रेस द्वारा जारी टिकटों की अंतिम सूची में ज्योत्सना का नाम शामिल किया गया.

डॉ. चरणदास महंत यूपीए-2 में केन्द्रीय राज्यमंत्री रहे हैं. इस चुनाव में उन्होंने कोरबा सीट से ही जीत हासिल की थी. चरणदास महंत मध्यप्रदेश सरकार में गृहमंत्री भी रह चुके हैं. ज्योत्सना महंत के पति डॉ. चरणदास महंत कांग्रेस के बड़े नेता हैं, इसके अलावा उनके पास राजनीतिक उपलब्धि गिनाने के लिए कुछ भी नहीं है. फिर भी छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों में से जिन सीटों पर कांग्रेस सबसे ज्यादा मजबूत मानी जा रही है, उसमें कोरबा का नाम सबसे आगे है.

अपने परिवार के सदस्यों के साथ चरणदास महंत.




पति के राजनीतिक सफर के सहारे संसद का रास्ता तय करने की जुगत में लगी ज्योत्सना महंत अब से पहले खुद कभी चुनाव नहीं लड़ीं. फिर भी सिर्फ कोरबा लोकसभा ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश में ज्योत्सना महंत अपने परिचय के लिए मोहताज नहीं हैं. एमएससी प्राणी शास्त्र से उत्तीर्ण ज्योत्सना की तीन पुत्री व एक पुत्र हैं. समाज सेवा, जनचेतना के कार्यों में पिछले 25 साल से सक्रिय रूप से जुड़ी हुई हैं.
ज्योत्सना महंत का कहना है कि अपने उद्देश्य व संकल्प पूर्ति के लिए कांग्रेस को सशक्त माध्यम के रूप में देखती हूं. कांग्रेस मेरी दृष्टि में राजनीतिक दल नहीं बल्कि एक विचारधारा है. पति डॉ. चरणदास महंत के साथ लोकसभा व विधानसभा चुनाव में लगातार सक्रिय रहने से आमजनों से सीधे संपर्क का फायदा मिलेगा.
ये भी पढ़ें: सुनील सोनी: रायपुर शहर के भरोसे संसद जाने की तैयारी, बीजेपी की साख बचाने की चुनौती 
ये भी पढ़ें: विजय बघेल: अब के सीएम भूपेश बघेल को दे चुके हैं मात, दुर्ग से दे रहे 'सरकार' को टक्कर 
ये भी पढ़ें: दीपक बैज: बस्तर के 'हीरो', 20 साल बाद रोकेंगे बीजेपी का विजय रथ! 
ये भी पढ़ें: नक्सल विरोधी मुहिम में क्यों सफल होंगी बस्तर की आदिवासी महिला लड़ाकू? 
ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कितना जानते हैं आप? 
ये भी पढ़ें:छत्तीसगढ़ में वोटर्स पर कितना असर डालेगा बीजेपी-कांग्रेस का नये चेहरों पर दांव? 
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज