Home /News /chhattisgarh /

korba police returns bag containing jewelry worth 2 lakh cyber cell help to track the location nodps

कोरबा पुलिस के इस काम की हो रही जमकर तारीफ, दंपत्ति की आंखों में आए खुशी के आंसू, पढ़ें पूरा मामला

दंपत्ति ने सिटी कोतवाली पुलिस को धन्यवाद देते हुए सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया है.

दंपत्ति ने सिटी कोतवाली पुलिस को धन्यवाद देते हुए सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया है.

कोरबा पुलिस ने एक दंपत्ति का खोया हुआ बैग वापस कर दिया. इस बैग में लाखों रुपए की ज्वैलरी रखी हुई थी. करीब 2 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने दंपत्ति को बैग लौटा दिया है. बैग पाकर दंपत्ति के चेहरों पर खुशी है. साथ ही उन्होंने सिटी कोतवाली पुलिस को धन्यवाद देते हुए सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया है.

अधिक पढ़ें ...

कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा पुलिस ने एक दंपत्ति का खोया हुआ बैग लौटा दिया. इस बैग में सोने-चांदी के कीमती जेवर रखे हुए थे. इस बैग में रखी ज्वैलरी की कीमत दो लाख रुपए के करीब बताई जा रही है. पुलिस के इस कदम की अब जमकर तारीफ हो रही है. पुलिस ने बताया कि शुक्रवार की शाम करीब 7 बजे पंप हाउस निवासी बसंत कुमार मांझी व उनकी पत्नी मीना मांझी सिटी कोतवाली थाने में घबराते हुए आए थे. मांझी ने पुलिस को सूचना दी कि उनका मोबाइल फोन, सोने के जेवर और अन्य कीमती सामानों से भरा बैग सर्वमंगला पुल के पास कहीं पर गिर गया है. इसके बाद पुलिस ने बैग की तत्काल खोज शुरू कर दी. काफी खोजने पर भी नहीं मिलने के बाद भी बैग नहीं मिला तो पुलिस ने समझा कि किसी के हाथ लग गया है.

मोबाइल फोन से मिली लोकेशन
इसके बाद मांझी ने बताया कि उनके बैग में उनका मोबाइल फोन है. पुलिस ने तत्काल प्रभाव से साइबर पुलिस की मदद लेते हुए मोबाइल की लोकेशन ट्रेक कर ली. मोबाइल की लोकेशन के आधार पर जब बैग खोजा तो झाड़ियों में पुलिस को बैग मिल गया. करीब 2 घंटे तक पुलिस की मशक्कत रंग लाई. पुलिस ने बैग की जांच कर दंपत्ति को सौंप दिया है. दंपत्ति के मुताबिक उनके बैग में सोने-चांदी के जेवर समेत नगदी रखी हुई थी. हालांकि पुलिस के तत्काल एक्शन की वजह से बैग मिल गया है. दंपत्ति ने सिटी कोतवाली पुलिस को धन्यवाद देते हुए सहयोग करने के लिए आभार व्यक्त किया है.

2 घंटे की मशक्कत के बाद मिला बैग
पुलिस ने बताया कि कड़ी मशक्कत के बाद बैग मिल गया है. इसमें साइबर पुलिस की मदद ली गई थी. पीड़ित ने बैग में मोबाइल फोन रखे होने की बात भी बताई थी. इसी के आधार पर मोबाइल की लोकेशन खोजी गई थी. बैग गिरने के बाद झाड़ियों में फंस गया था. इस पर किसी की नजर नहीं पड़ी. बैग वापस पर दंपत्ति को वापस सौंप दिया गया है. खोज कार्य में उप निरीक्षक लालन पटेल, प्रधान आरक्षक माखनलाल पात्रे, आरक्षक रोहित राठौर, नरेंद्र पाटनवार,संदीप टंडन एवं सायबर सेल के आरक्षक डेमन ओगरेका सराहनीय योगदान रहा है.

Tags: Chhattisgarh news, Korba news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर