होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /

पति ने बताए घर के राज, फिर दोस्तों ने पत्नी को अकेले पाकर की खौफनाक वारदात

पति ने बताए घर के राज, फिर दोस्तों ने पत्नी को अकेले पाकर की खौफनाक वारदात

कोरबा पुलिस ने दीपका गोलीकांड का खुलासा कर दिया है.

कोरबा पुलिस ने दीपका गोलीकांड का खुलासा कर दिया है.

Korba Latest News: छत्तीसगढ़ के कोरबा में एक शख्स को अपने दोस्त को घर का राज बताना महंगा पड़ गया. दरअसल 31 दिसंबर 2021 की रात को महिला को उसके ही पति के दोस्तों ने गोली मारी थी. दोनों लूट करने के मकसद से घर में घुसे थे और महिला के सिर पर गोली मारकर 50 हजार रुपये लेकर भाग निकले थे. इसके बाद से ही दोनों फरार थे. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस की जांच में खुलासा हुआ था कि महिला के पति के दोस्त ने अपने एक अन्य साथी के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पूछताछ में उन्होंने पूरी वारदात को खुलासा किया है.

अधिक पढ़ें ...

कोरबा. छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में महिला को गोली मारने के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है. दीपका गोलीकांड मामले में पुलिस का दावा है कि एक शख्स को अपने दोस्त को घर का राज बताना महंगा पड़ गया. दरअसल 31 दिसंबर 2021 की रात को महिला को उसके ही पति के दोस्तों ने गोली मारी थी. इस बात का खुलासा हो गया है. दोनों लूट करने के मकसद से घर में घुसे थे और महिला के सिर पर गोली मारकर 50 हजार रुपये लेकर भाग निकले थे. इसके बाद से ही दोनों फरार थे. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

मामला कोरबा जिले के दीपका थाना क्षेत्र का है. झाबर निवासी महिला सरोजनी बाई 31 जनवरी को रात को 9 से 10 बीच घर में अकेली थी. इसी दौरान 2 शख्स उसके घर पर घुसे थे. उन्होंने पहले तो महिला को डराया धमकाया. फिर उसके सिर पर गोली मारकर घर की आलमारी में रखे 50 हजार लूटकर ले गए थे. महिला का पति सन्नी जब घर आया था. तब पूरे मामले की जानकारी सामने आई थी. घटना के बाद महिला को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इस मामले में पुलिस ने बीते 1 जनवरी को केस दर्ज किया था और जांच शुरू की थी, जिसमें पुलिस को महिला के पति सन्नी ने बताया कि उसने 50 हजार रुपए उसके ट्रैक्टर का किश्त पटाने के लिए रखा था. उसने इस पैसे को घर की आलमारी में रख दिया था.

दोस्त को बताए थे राज
सन्नी ने पुलिस को बताया कि घटना के दिन उसकी मुलाकात उसके दोस्त जावेद से हुई थी. जावेद सन्नी से मिलने दीपका आया था. सन्नी ने जावेद को घर में पैसे रखे हाेने की जानकारी दी थी. इस बयान के बाद ही पुलिस जावेद की तलाश कर रही थी, मगर उसका कुछ पता नहीं चल रहा था. आखिरकार उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. तब जावेद ने बताया कि उसने इस केस में अपने एक साथी धरम सिंह राजपूत को भी शामिल किया था. इसके बाद धरम सिंह को भी पुलिस ने पकड़ लिया. दोनों आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे दोनों सिर्फ घर से पैसे ही लूटना चाहते थे, मगर सरोजनी ने चिल्लाना शुरू कर दिया था. धरम ने शराब भी पी रखी थी. इसके चलते उसने नशे में गोली चला दी और महिला घायल हो गई थी. घटना के बाद उन्होंने पिस्टल को एक नदी में फेंक दिया था.

Tags: Crime News, Korba news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर