लाइव टीवी

कचरे में फेंक दी गईं लाखों रुपयों की दवाएं, जिम्मेदार दे रहे ये दलील
Korba News in Hindi

Abdul Aslam | News18 Chhattisgarh
Updated: January 29, 2020, 4:30 PM IST
कचरे में फेंक दी गईं लाखों रुपयों की दवाएं, जिम्मेदार दे रहे ये दलील
कोरबा में दवाइयां फेंक दी गईं. (सांकेतिक तस्वीर)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) के कटघोरा सामुदायिक स्वास्थ्य (Health) केन्द्र के स्टोर रूम में रखी लाखों रुपए की दवाओं को फेंक दिया गया.

  • Share this:
कोरबा. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) के कटघोरा सामुदायिक स्वास्थ्य (Health) केन्द्र के स्टोर रूम में रखी लाखों रुपए की दवाओं को फेंक दिया गया. इनमें कई दवाइयों (Medicines) की एक्सपायरी डेट खत्म नहीं हुई थी. इन दवाओं को बांटने की बजाय सिर्फ स्टोर में डंप कर रख दिया गया. ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले ग्रामीणों को शिविर के माध्यम से शासन-प्रशासन व चिकित्सा विभाग चिकित्सा सेवा मुहैया कराती है. साथ ही उन्हें निःशुल्क दवाइयों का वितरण किया जाता है.

ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा शिविर की जिम्मेदारी विकासखंड चिकित्सा अधिकारी को सौंपी जाती है. विभाग समय-समय पर दवा मंगाता है और उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रखा जाता है. जरूरत के मुताबिक शिविर में ले जाकर दवाओं का वितरण किया जाना है, लेकिन कटघोरा सामुदायिक केंद्र में रखी दवाओं से ऐसा लग रहा है कि विभाग ने ग्रामीण क्षेत्र में दवाओं का वितरण ही नहीं किया. इसका खुलासा बीते मंगलवार को उस वक्त हुआ, जब कटघोरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के स्टोर में रखी हुई लाखों की दवाइयों को डिस्पोज कर खाली बोतलों को बाहर फेंका गया.

क्यों फेंकी गईं दवाएं
इन दवाओं को नगर पालिका कटघोरा के कचरा उठाने वाले वाहन में भर कर मणिकंचन केंद्र भेज दिया गया. इसके साथ ही बोतलों को खाली करते हुए अस्पताल परिसर में ही दवाइयों को गिरा दिया गया. इससे आसपास का क्षेत्र इन दवाइयों की गंध से प्रदूषित हो रहा है. लाखों रुपयों की दवाएं क्यों फेंकी गई, इस संबंध में कोई भी स्पष्ट रूप से जानकारी नहीं दे सका. लोगो का कहना है कि कटघोरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार कराने आए हुए मरीजों को दवाओं का वितरण नहीं किया जाता है. बल्कि उन्हें बाहर दुकान से दवा खरीदने को कहा जाता है. ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर रुद्रपाल कंवर से इस विषय पर जानकारी लेने का प्रयास किया गया, तो उन्होंने टालमटोल की. बाद में कहा कि लाखों रुपये की दवाएं मंगाई जाती है. परिवहन के वक्त दवाओं की कुछ बोतल व दवाएं खराब हो गई, उन्हें ही फेंका जा रहा है.

ये भी पढ़ें:
बेमेतरा में पति, पत्नी और बच्चे की हत्या, 2 घायल, जांच में जुटी पुलिस 

छत्तीसगढ़: वोट के लालच में प्रत्याशी ने बांटे थे गिफ्ट, हार पर बौखलाया तो वोटर्स ने लौटाए सामान 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कोरबा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 29, 2020, 4:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर