कोरबा में नवजात की मौत, अस्पताल पर लापरवाही के आरोप

कोरबा में जिला अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगा है. आरोप है कि प्रसव के दौरान अस्पताल के स्टाफ द्वारा लापरवाही करने के कारण नवजात की मौत हो गई.

Abdul Aslam | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: March 14, 2018, 12:16 PM IST
कोरबा में नवजात की मौत, अस्पताल पर लापरवाही के आरोप
प्रतीकात्मक फोटो
Abdul Aslam
Abdul Aslam | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: March 14, 2018, 12:16 PM IST
कोरबा में जिला अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगा है. आरोप है कि प्रसव के दौरान अस्पताल के स्टाफ द्वारा लापरवाही करने के कारण नवजात की मौत हो गई. मामले में परिजनों ने अस्पताल में हंगामा किया. इसके बाद जांच की बात कही गई.

मिली जानकारी के मुताबिक उरगा थाना क्षेत्र के ग्राम तरदा के परसाभाठा मोहल्ला निवासी दिलमोहन कुर्रे की पत्नी रजनी कुर्रे गर्भवती थी. हल्की पीड़ा उठने पर पति अपने परिजन को लेकर सोमवार की देर रात सरगबुंदिया अस्पताल पहुंचे. यहां महिला कर्मचारी ने जांच कर प्रसव में समय बाकी होना बताकर जिला अस्पताल रेफर कर दिया.

दिलमोहन के मुताबिक मंगलवार की सुबह जिला अस्पताल पहुंचे परिजनों को पहले गर्भवती की जांच के लिए घुमाया गया. फिर जचकी वार्ड में भर्ती कर लिया गया, जहां कुछ देर बाद रजनी को प्रसव पीड़ा बढ़ गई, लेकिन महिला डॉक्टर या स्टाफ देखने तक नहीं आया. शिशु के बाहर की ओर आने के बाद भी ध्यान नहीं दिया गया.

काफी देर बाद एक महिला कर्मचारी पहुंची लेकिन तब तक शिशु ने दम तोड़ दिया. दिलमोहन ने मामले की लिखित शिकायत कलेक्टर और सी एम एच ओ करते हुए कार्रवाई की मांग की है. दिलमोहन के मुताबिक उसकी पत्नी रजनी को प्रसव पीड़ा होने पर वह लगभग तीन घंटे तक दर्द से चिल्लाते रही, इस दौरान कोई भी अस्पताल कर्मचारी सुरक्षित प्रसव कराने नहीं आया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->
काउंटडाउन
काउंटडाउन 2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे
2018 विधानसभा चुनाव के नतीजे