vidhan sabha election 2017

माता-पिता घर बैठे जान पाएंगे कैसी है उनके बच्‍चे की सेहत

Abdul Aslam | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 8, 2017, 4:37 PM IST
माता-पिता घर बैठे जान पाएंगे कैसी है उनके बच्‍चे की सेहत
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर.
Abdul Aslam | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: December 8, 2017, 4:37 PM IST
छत्‍तीसगढ़ महिला एवं बाल विकास विभाग ने एक ऐसा ऐप व टोल फ्री नंबर लॉन्च किया है, जिसमें वे अपने बच्चे का वजन और आयु फीड करेंगे, तो यह पता चल सकेगा कि उसकी सेहत ठीक है या नहीं.

इसके साथ ही इस ऐप के माध्यम से इस बात की भी जानकारी मिलेगी कि कैसी डाइट बच्चों को दी जाए, ताकि वे अपनी आयु के अनुरूप पोषण प्राप्त कर सकें.

शून्य से 5 वर्ष तक के बच्चों की सेहत के प्रति पालकों को जागरूक करने के लिए लॉन्च किए गए इस ऐप को विभाग ने न्यूट्रीचेकअप नाम दिया है. प्रत्येक बच्चे का वजन तौलने के बाद यह जानकारी ऑनलाइन करने के निर्देश दिए हैं. इसके बाद यह डेटा वेबसाइट पर भी अपलोड किया जाएगा.

जिले के बच्चों की जुड़ी जानकारियां महिला एवं बाल विकास विभाग जब ऑनलाइन कर लेगा, तो उसे लॉन्च किए गए एप न्यूट्रीचेकअप पर देखा जा सकेगा. इतना ही नहीं, सेहत में कमी हो तो बच्चों की देखरेख व खानपान से जुड़ा परामर्श भी ऐप के माध्यम से प्राप्त किया जा सकेगा.

मुख्यमंत्री सुपोषण मिशन के तहत कुपोषण की दर में कमी लाने व लोगों को बच्चों की सेहत के प्रति जागरूक करने के लिए यह सुविधा शुरू की जा रही है. कोरबा की सभी 9 परियोजनाओं में कुल 2 हजार 265 आंगनवाड़ी व 255 मिनी आंगनवाड़ी केंद्र संचालित हैं. मिशन के तहत जिले में सूचीबद्ध किए गए 1 लाख 19 हजार बच्चों का वजन कर ताजा डेटा एकत्र किया जा रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर