Home /News /chhattisgarh /

कोरबी में जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित,189 का हुआ मौके पर निराकरण

कोरबी में जनसमस्या निवारण शिविर आयोजित,189 का हुआ मौके पर निराकरण

जिले के पोंड़ीउपरोड़ा विकासखंड के ग्राम कोरबी में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया. शिविर को संबोधित करते हुए कलेक्टर रीना कंगाले ने कहा कि दूरस्थ अंचलों में जनसमस्या निवारण शिविर के आयोजन से ना केवल समस्याओं के निराकरण में तेजी आती है, बल्कि जिला स्तरीय अधिकारियों के भ्रमण से फील्ड में पदस्थ कर्मचारियों की कार्यशैली में कसावट आती है.

जिले के पोंड़ीउपरोड़ा विकासखंड के ग्राम कोरबी में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया. शिविर को संबोधित करते हुए कलेक्टर रीना कंगाले ने कहा कि दूरस्थ अंचलों में जनसमस्या निवारण शिविर के आयोजन से ना केवल समस्याओं के निराकरण में तेजी आती है, बल्कि जिला स्तरीय अधिकारियों के भ्रमण से फील्ड में पदस्थ कर्मचारियों की कार्यशैली में कसावट आती है.

जिले के पोंड़ीउपरोड़ा विकासखंड के ग्राम कोरबी में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया. शिविर को संबोधित करते हुए कलेक्टर रीना कंगाले ने कहा कि दूरस्थ अंचलों में जनसमस्या निवारण शिविर के आयोजन से ना केवल समस्याओं के निराकरण में तेजी आती है, बल्कि जिला स्तरीय अधिकारियों के भ्रमण से फील्ड में पदस्थ कर्मचारियों की कार्यशैली में कसावट आती है.

अधिक पढ़ें ...
जिले के पोंड़ीउपरोड़ा विकासखंड के ग्राम कोरबी में जिला स्तरीय जनसमस्या निवारण शिविर का आयोजन किया गया. शिविर को संबोधित करते हुए कलेक्टर रीना कंगाले ने कहा कि दूरस्थ अंचलों में जनसमस्या निवारण शिविर के आयोजन से ना केवल समस्याओं के निराकरण में तेजी आती है, बल्कि जिला स्तरीय अधिकारियों के भ्रमण से फील्ड में पदस्थ कर्मचारियों की कार्यशैली में कसावट आती है.

जनसमस्या निवारण शिविर के माध्यम से विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारीगण अपने विभाग की महत्वपूर्ण शासकीय योजनाओं की जानकारी भी ग्रामीणों को उपलब्ध कराते हैं तथा स्वयं उपस्थित होकर ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण करते हैं.

उन्होंने जनसमस्या निवारण शिविर में उपस्थित सभी अधिकारियों को जिले दूरस्थ अंचलों में स्थित ग्रामीण क्षेत्रों के निवासियों की समस्याओं को पूरी संवेदनशीलता के साथ तत्परता से कार्य करते हुए शीघ्र निराकरण करने का प्रयास करने निर्देशित किया. उन्होंने सकारात्मक सोच के साथ पूरी लगन से जनसमस्याओं के प्रभावी निराकरण सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिए. साथ ही शिविर में अनुपस्थित विभागीय अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि भविष्य में इस प्रकार की स्थिति होने पर संबंधित विभाग के अधिकारियों के विरुद्ध कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी. उन्होंने एसईसीएल प्रबंधन के अधिकारियों के अनुपस्थिति पर भी नाराजगी व्यक्त की.

शिविर में दूरस्थ अंचलों में विद्युत की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया. कलेक्‍टर ने स्वच्छता अभियान अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की जानकारी लेते हुए कहा कि ग्रामीण स्वप्रेरणा से ग्राम की स्वच्छता में अपना योगदान दें तथा शासकीय योजनाओं का लाभ लें.

शिविर में कुल 279 आवेदन आए, जिसमें से 189 का मौके पर ही निराकरण कर दिया गया. शिविर में विभागीय अधिकारियों ने शासन द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी उपस्थित ग्रामीणों को प्रदान की. ग्रामीणों को योजनाओं के विषय में जानकारी देने के साथ ही आवश्यकतानुसार इसका लाभ उठाने अपील की गई.

शिविर में 6 कृषकों को स्पेयर पंप का वितरण किया गया. मत्स्य पालन विभाग द्वारा 3 कृषकों को 2-2 नग महाजाल का वितरण किया गया तथा बचत सह राहत योजना अंतर्गत आदिवासी मछुआ सहकारी समिति केंद्रीय के अध्यक्ष को 45 हजार का चेक प्रदान किया गया. उद्यान विभाग द्वारा 25 कृषकों को अमरूद पौध का वितरण किया गया. शिविर में पांच गर्भवती महिलाओं की गोद भराई की गई और पांच बच्चों का अन्नप्राशन किया गया. साथ ही पांच बच्चों को स्‍कूल ड्रेस का वितरण किया गया.

शिविर में जनपद अध्यक्ष किरण मरकाम, एसडीएम विजेंद्र पाटले, सहायक आयुक्त श्रीकांत दुबे, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पीआर कुंभकार सहित अन्य अधिकारी, जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण उपस्थित थे.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर