Home /News /chhattisgarh /

आदिवासी समाज बिरसा मुंडा जयंती पर मनाएगा अधिकार दिवस

आदिवासी समाज बिरसा मुंडा जयंती पर मनाएगा अधिकार दिवस

पत्रकारों से चर्चा करते हुए कौशल सिंह राज व साथी.

पत्रकारों से चर्चा करते हुए कौशल सिंह राज व साथी.

छत्‍तीसगढ़ के कोरबा में आदिवासी समाज के लोगों ने पांचवीं अनुसूची क्षेत्र पेशा कानून अनुपालन समिति बनाते हुए अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करने की घोषणा की है. 15 नवंबर को बिरसा मुंडा जयंती पर अधिकार दिवस मनाने का भी निर्णय लिया है.

    छत्‍तीसगढ़ के कोरबा में आदिवासी समाज के लोगों ने पांचवीं अनुसूची क्षेत्र पेशा कानून अनुपालन समिति बनाते हुए अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करने की घोषणा की है. 15 नवंबर को बिरसा मुंडा जयंती पर अधिकार दिवस मनाने का भी निर्णय लिया है. इसके तहत घंटाघर ओपन आडिटोरियम मैदान में एक लाख से अधिक लोगों को बुलाने तैयारी की जा रही है.

    अनुपालन समिति के कोषाध्यक्ष कौशल सिंह राज ने तिलक भवन में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि इस बार का समारोह अलग ही तरह का होगा. भगवान बिरसा मुंडा ने आदिवासियों के धार्मिक, सांस्कृतिक व आर्थिक अधिकारों की लड़ाई में अपने प्राणों की आहुति दे दी थी. इसके बाद भी आदिवासियों को धार्मिक, सांस्कृतिक, सामाजिक, शैक्षणिक व राजनीतिक अधिकार प्राप्त नहीं हुए हैं.

    उन्‍होंने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 244 (1) के तहत और राष्ट्रपति द्वारा अधिसूचित कोरबा जिला भी एक पांचवीं अनुसूची विशेष आदिवासी क्षेत्र है. साथ ही यहां पेशा कानून लागू है, लेकिन इसका पालन नहीं किया जा रहा है. इसी वजह से आदिवासी समाज के लोगों ने संघर्ष करने का निर्णय लिया है.

    उन्‍होंने बताया कि 4 नवंबर को घुमानीडांड, 5 को कटघोरा, 7 को करतला, 9 को सतरेंगा, 12 को मड़वारानी में कार्यक्रम आयोजित है. प्रशासन को समस्याओं का समाधान करने के लिए समय दिया गया है. अगर संवैधानिक अधिकार नहीं मिलता है तो आगे के लिए निर्णय लिया जाएगा, जिसमें आंदोलन भी शामिल है.

    Tags: Birsa Munda Jayanti, Korba news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर