पंचायत के इस फरमान पर युवक ने की खुदकुशी, जांच के लिए श्मशान से अस्थियां ले गई पुलिस

घटना छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) जिले के पाली पुलिस थाना (Police Station) क्षेत्र की है.

Abdul Aslam | News18 Chhattisgarh
Updated: September 12, 2019, 11:04 AM IST
पंचायत के इस फरमान पर युवक ने की खुदकुशी, जांच के लिए श्मशान से अस्थियां ले गई पुलिस
छत्तीसगढ़ के कोरबा में छेड़छाड़ के आरोपी एक युवक को पंचायत ने ऐसा फरमान सुना दिया कि उसने खुदकुशी कर ली.
Abdul Aslam
Abdul Aslam | News18 Chhattisgarh
Updated: September 12, 2019, 11:04 AM IST
कोरबा: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरबा (Korba) में छेड़छाड़ के आरोपी एक युवक को पंचायत ने ऐसा फरमान सुना दिया कि उसने खुदकुशी (Suicide) कर ली. पंचायत के डर से मृतक के परिजनों ने खुदकुशी को सामान्य मौत बताकर अंतिम संस्कार भी कर दिया, लेकिन जब इसकी जानकारी पुलिस (Police) को लगी तो वो श्मशान घाट पहुंची और जांच के लिए मृतक की अस्थियों को जब्त किया. पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है. पंचायत के लोगों से पुलिस पूछताछ की तैयारी कर रही है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक घटना कोरबा (Korba) के पाली पुलिस थाना (Police Station) क्षेत्र की है. यहां छिंदपानी निवासी बलराम कश्यप पर बीते शनिवार को एक महिला ने छेड़छाड़ (Molestation) का आरोप लगाया. महिला का आरोप था कि युवक पिछले कुछ दिनों से उसके साथ छेड़छाड़ कर रहा है. इसकी जानकारी पंचायत को दी गई. आरोप लगाया गया है कि पंचायत के लोगों ने पहले युवक की पिटाई कर दी. इसके बाद उसपर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया. पंचायत के इस फरमान के बाद युवक ने खुदकुशी कर ली.

korba, chhattisgarh
पुलिस श्मशान घाट पहुंची और जांच के लिए मृतक की अस्थियों को जब्त किया.


ये है मामला

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पाली थाना क्षेत्र के छिंदपानी निवासी 35 वर्षीय बलराम कश्यप बीते शनिवार को दोस्तों के साथ गणेश विसर्जन में गया था. यहां से लौटते समय वह उड़ता गांव में लगे साप्ताहिक बाजार में नाश्ता कर रहा था. इसी दौरान वहां एक महिला अपने पति के साथ पहुंची. उसने बलराम पर कुछ दिन पहले छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया. दर्ज शिकायत के मुताबिक इसके बाद महिला के पति ने अपने साला, भांजा व बड़ी बहन को वहां बुलाया, जो जबरन बलराम को बाइक पर बैठाकर ले गए. इस दौरान रास्ते में युवक की लगातार पिटाई की गई. इसके बाद उसे भादाकछार गांव ले गए, जहां उन्होंने पंचायत बुलाई. पंचायत में भादाकछार गांव के अलावा पुटा और छिंदपानी के भी कई लोग पहुंचे थे. बलराम के पिता रिखीराम और अन्य परिजन को भी वहां बुलाया.

..तो सुनाया फरमान
पुलिस के मुताबिक पुटा सरपंच दिलाराम और सचिव राजकुमार के नेतृत्व में पंचायत के कई लोगों की मौजूदगी में चर्चा हुई, जहां भरी सभा में छेड़छाड़ के आरोप में बलराम पर 50 हजार का अर्थदंड लगाया. इसकी लिखा-पढ़ी भी की गई. इसमें बलराम के साथ ही उसके पिता रिखीराम का हस्ताक्षर कराया गया. इसके बाद बलराम परिवार समेत घर लौटा और बीते सोमवार की देर रात उसने घर में फांसी लगा ली. आरोप लगाया गया है कि पंचायत के दबाव में मृतक के पिता ने उसकी मौत को सामान्य बताकर अंतिम संस्कार भी कर दिया.
Loading...

कराएंगे जांच
कोरबा के पाली थाना के एसआई अशोक शर्मा ने मीडिया को बताया कि फांसी लगाकर आत्महत्या के मामले को पंचायत के लोगों द्वारा छिपाते हुए शव का दाह संस्कार कराने की सूचना मिली थी. पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां कोई नहीं था. शव करीब 90 फीसदी जल गया था. संदेह के आधार पर जांच-पड़ताल के लिए पानी डालकर आग बुझाई गई. वहां बची अस्थि और राख को पंचनामा कार्रवाई कर जब्त किया है, जिसे मरच्यूरी भेजा दिया है. अब उसे फारेंसिक लैब भेजेंगे.

ये भी पढ़ें: DKS में फिजूलखर्ची का आलम: स्ट्रेचर से होने वाले काम के लिए खरीदे 85 लाख रुपये के एंबुलेंस 

ये भी पढ़ें: एयर इंडिया के महिला स्टाफ से दुर्व्यवहार के आरोप पर कांग्रेस MLA ने कही ये बात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कोरबा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 11:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...