FB पर MLA के खिलाफ पोस्ट से मचा बवाल, 6 साल के लिए पार्टी से बर्खास्त होंगे कांग्रेस जिला सचिव

कांग्रेस जिला सचिव प्रकाश त्रिपाठी को जिला कांग्रेस कमेटी ने पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित करने के लिए पीसीसी को अनुशंसा पत्र भेजा है. फिलहाल, सचिव को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है

News18 Chhattisgarh
Updated: August 7, 2019, 7:22 AM IST
FB पर MLA के खिलाफ पोस्ट से मचा बवाल, 6 साल के लिए पार्टी से बर्खास्त होंगे कांग्रेस जिला सचिव
FB पर MLA के खिलाफ पोस्ट से मचा बवाल, 6 साल के लिए पार्टी से बर्खास्त होंगे कांग्रेस जिला सचिव (फाइल फोटो)
News18 Chhattisgarh
Updated: August 7, 2019, 7:22 AM IST
छत्तीसगढ़ के कोरिया में कांग्रेस जिला सचिव प्रकाश त्रिपाठी को जिला कांग्रेस कमेटी ने पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित करने के लिए पीसीसी को अनुशंसा पत्र भेजा है. फिलहाल, सचिव को पार्टी से निलंबित कर दिया गया है. बता दें कि मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल की जनसंपर्क निधि की राशि को जरूरतमंदों के बजाए सरकारी कर्मचारी, केंद्र सरकार के कर्मचारी की पत्नी और करीबियों को बांटे जाने पर कांग्रेस जिला सचिव प्रकाश त्रिपाठी ने फेसबुक पर कुछ सवाल उठाए थे.

ये है पूरा मामला

आपको बता दें कि कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ विधायक की जनसंपर्क निधि से एक महीने पहले 25 लोगों को आर्थिक सहायता, इलाज और शिक्षा के नाम पर 1 लाख 83 हजार रुपए बांटी गई थी. इसमें अलग-अलग राशि का चेक काटकर लोगों को वितरण किया गया था. लिहाजा, लाभान्वित 25 हितग्राहियों की सूची वायरल होने के बाद कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी ही इस पर सवाल उठाने लग गए थे.

सोशल मीडिया पर की थी टिप्पणी

मनेंद्रगढ़ विधायक की जनसंपर्क निधि से एक महीने पहले 25 लोगों को बांटी गई राशि पर जिला कांग्रेस कमेटी के सचिव प्रकाश त्रिपाठी ने सोशल मीडिया में सवाल उठाया था. उन्होंने पूछा था कि गरीब, जरूरतमंद और बेसहारा लोगों के इलाज के लिए आवंटित निधि का पैसा ऐसी महिलाओं को क्यों दे दिया गया, जिनके पति रेलवे और साउथ ईस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एसईसीएल) में कार्यरत हैं.

प्रकाश त्रिपाठी ने पूछा कि मनेंद्रगढ़ विधायक और उनके समर्थकों ने नगरीय निकाय चुनावों के दृष्टिगत पार्टी का गंभीर नुकसान किया है, इसका जवाबदेह कौन है? वहीं सोशल मीडिया पर मनेंद्रगढ़ विधायक के खास समर्थकों का व्यवहार गदहों के समूह की तरह है जैसी कई टिप्पणियां प्रकाश त्रिपाठी ने की थी.

जिला कांग्रेस कमेटी ने सचिव को जारी किया था कारण बताओ नोटिस
Loading...

इधर, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नजीर अजहर ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला सचिव प्रकाश त्रिपाठी को कारण बताओ नोटिस जारी कर जवाब मांगा था. लेकिन जिला सचिव ने अपना जवाब प्रस्तुत करने की बजाए विधायक एवं संगठन के पदाधिकारी की शिकायत कर दी थी.

प्रकाश त्रिपाठी को पार्टी से किया गया निलंबित

संबंधित मामले में कांग्रेस जिलाध्यक्ष अजहर ने कांग्रेस जिला सचिव प्रकाश त्रिपाठी को पत्र लिखकर कहा कि मनेंद्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने पर जवाब मांगा गया था. इस पर आपने किसी प्रकार का कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया. लिहाजा, कांग्रेस कमेटी मामले में आपको पार्टी से निलंबित करती है. साथ ही पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किया जाता है. इसकी अनुशंसा प्रदेश कांग्रेस कमेटी को भेज दी गई है.

ये भी पढ़ें:- 6 महीने और निलंबित रहेंगे मुकेश गुप्ता और रजनेश सिंह

ये भी पढ़ें:- कांग्रेस ने कवर्धा में नगरीय निकाय चुनाव की शुरू की तैयारी
First published: August 7, 2019, 7:22 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...