बैकुंठपुर जिला अस्पताल: नर्स की लापरवाही से डस्टबिन में गिरा नवजात, मौत

प्रसव के दौरान महिला को नर्सों ने अकेला छोड़ दिया था. इस दौरान जन्म होते ही नवजात सीधा डस्टबिन में जा गिरा, जिससे उसकी मौत हो गई.

Ramcharit Dwivedi | News18 Chhattisgarh
Updated: October 13, 2018, 12:36 PM IST
बैकुंठपुर जिला अस्पताल: नर्स की लापरवाही से डस्टबिन में गिरा नवजात, मौत
बैकुंठपुर जिला अस्पताल: नर्स की लापरवाही से डस्टबिन में गिरा नवजात, मौत
Ramcharit Dwivedi | News18 Chhattisgarh
Updated: October 13, 2018, 12:36 PM IST
छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में बैकुंठपुर जिला अस्पताल की बदइंतजामी ने एक नवजात की जान ले ली. प्रसव के दौरान महिला को नर्सों ने अकेला छोड़ दिया था. इस दौरान जन्म होते ही नवजात सीधा डस्टबिन में जा गिरा, जिससे उसकी मौत हो गई. बता दें कि बैकुंठपुर जिला अस्पताल में डस्टबिन में नवजात के गिरकर मरने की ये दूसरी घटना है. बहरहाल, परिजनों ने डॉक्टर, नर्स और स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी है.

बैकुंठपुर जिला अस्पताल में साफ-सफाई समेत सारी व्यवस्था देखने के लिए की आई कायाकल्प की टीम की खातिरदारी में सभी व्यस्त थे. इस बीच जिला अस्पताल की भारी लापरवाही के कारण बीते शुक्रवार को लेबर रूम के डिलीवरी बेड से एक नवजात के डस्टबिन में गिरने से मौत हो गई. बता दें कि जिला अस्पताल का निरीक्षण करने कायाकल्प की जिला स्तरीय टीम आई थी, जिनके स्वागत-सत्कार में पूरा मेडिकल स्टाफ लगा हुआ था.

इधर, अस्पताल के लेबर रूम में भर्ती प्रसूता दर्द से कराह रही थी, लेकिन उसे कोई सुनने-देखने वाला नहीं था. इसी बीच अचानक उसे प्रसव पीड़ा हुई और मौके पर किसी डॉक्टर-नर्स के नहीं होने पर ये हादसा हो गया.

हादसे के बाद से प्रसूता और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. परिजनों ने मेडिकल स्टाफ पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जिला कोतवाली में शिकायत कर दोषी के खिलाफ कड़ी सेे कड़ी कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ें:- 

बैकुण्ठपुर में जनसम्पर्क की राशि का लाभ अपात्र लोगों को पहुंचाया गया: RTI
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर