जान बचाने के लिए ग्रामीणों ने अधेड़ को गोबर से भरे गड्ढे में गाड़ा !

मधौरा गांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 50 वर्षीय एक ग्रामीण की मौत हो गई जबकि घटनास्थल पर मौजूद एक अन्य युवक झुलसने से बुरी तरह घायल हो गया है.

Ramcharit Dwivedi
Updated: July 13, 2018, 1:19 PM IST
जान बचाने के लिए ग्रामीणों ने अधेड़ को गोबर से भरे गड्ढे में गाड़ा !
जान बचाने के लिए ग्रामीणों ने अधेड़ को गोबर से भरे गड्ढे में गाड़ा !
Ramcharit Dwivedi
Updated: July 13, 2018, 1:19 PM IST
छत्तीसगढ़ में कोरिया जिले के वनांचल क्षेत्रों में बारिश होते ही आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मरने वाले लोगों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. इसी क्रम में जिले में सोनहत के मधौरा गांव में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से 50 वर्षीय एक ग्रामीण की मौत हो गई जबकि घटनास्थल पर मौजूद एक अन्य युवक झुलसने से बुरी तरह घायल हो गया है.

आपको बता दें कि आकाशीय बिजली की चपेट में आने के बाद कुछ ग्रामीणों ने दोनों घायलों को गोबर से भरे गड्ढे में यह सोचकर गाड़ दिया कि इससे बिजली का प्रभाव कम हो जाएगा. हालांकि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ.

मिली जानकारी के मुताबिक जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर सोनहत विकासखंड के ग्राम मधौरा में हृदय चोवा और हरीशचंद्र नामक दो ग्रामीण खेती के काम में लगे हुए थे. तभी उस दौरान अचानक तेज बारिश शुरू हो गई. इसके बाद दोनों ग्रामीण बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे जाकर खड़े हो गए.



तभी आकाशीय बिजली पेड़ के ऊपर आ गिरी, इससे 50 वर्षीय हरीशचंद्र और 25 वर्षीय हृदय चोवा अचेत हो गए. इस दौरान बिजली के प्रभाव को कम करने के लिए दोनों को ग्रामीणों ने गोबर से भरे गड्ढे में दबा दिया. इसके बाद भी अधेड़ की जान नहीं बच पाई.

फिलहाल, घायल युवक को इलाज के लिए सोनहत अस्पताल में भर्ती कराया गया है. साथ ही मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...