लाइव टीवी

COVID-19: महासमुंद में धारा-144 लागू, लोगों से एहतियात बरतने की अपील
Mahasamund News in Hindi

News18 Chhattisgarh
Updated: March 20, 2020, 9:20 AM IST
COVID-19: महासमुंद में धारा-144 लागू, लोगों से एहतियात बरतने की अपील
महासमुंद कलेक्टर ने अधिकारियों की बैठक लेकर जरूरी निर्देश दिए.

जिले के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में सर्दी-खासी के मरीजों के लिए अलग से व्यवस्था करने के आदेश कलेक्टर ने जारी कर दिया है.

  • Share this:
महासमुंद. कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर प्रदेशभर में अलर्ट जारी कर दिया गया है. महासमुंद (Mahasamund) जिले में भी धारा-144 लागू कर दी गई है. कोरोना वायरस को लेकर प्रशासन ने जिले के सभी नगरीय निकाय और जनपद क्षेत्रों में धारा 144 आगामी आदेश तक प्रभावशील कर दिया है. जिले में  किसी भी प्रकार के धार्मिक और सामाजिक आयोजन पर भी प्रतिबंध लगाया गया है जिससे लोगों की भीड़ को रोका जा सके. इसके साथ ही सब्जी बाजारों में हाथ धोने की व्यवस्था के लिए नगर पालिका और नगर पंचायतों को निर्देशित किया गया है. जिले के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों में सर्दी-खासी के मरीजों के लिए अलग से व्यवस्था करने के आदेश कलेक्टर ने जारी कर दिया है.

साथ ही कोरोना वायरस (COVID-19) को लेकर कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने जिले की जनता से अपील की है कि जरूरी काम पर ही घरों से लोग बाहर निकलने, अनावश्यक भीड़ कहीं भी न लगाएं. लोगों को जागरूक नागरिक की भूमिका निभाते हुए दूसरों को भी जागरूक करने की अपील की है. साथ ही कलेक्टर ने जनता से की अपील की है कि राशन और मेडिकल के साथ जरूरत की दुकानें खुली रहेंगी. इसे लेकर घबराने की आवश्यकता नहीं है.

प्रशासन ने एहतियात के तौर पर लिया ये फैसला



आपको बता दें कि महासमुंद जिले में 8 संदिग्ध मरीजों को आइसोलेशन में रखा गया है. 4 को सरायपाली, 2 को बसना और 2 को जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. इनमें से 6 दुबई और 1 आस्ट्रेलिया और एक शख्स लंदन के दौरे से लौटे है. हालांकि इनमें कोरोना वायरस जैसे किसी भी प्रकार के लक्षण नहीं पाए गए हैं, फिर भी प्रशासन सुरक्षा के मद्देनजर सभी को निगरानी में रखी हुई है. साथ ही जिले के सरकारी और निजी अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है. इसके अलावा जिला अस्पताल परिसर में स्थित एएनएम औऱ जीएनएम ट्रेनिंग सेंटर में भी आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है.



लोगों को समझाइश देते अधिकारी.


प्रशासन की टीम उतरी सड़क पर

जिले में धारा 144 लागू होते ही प्रशासन और पालिका की टीम शहर में घूम-घूमकर लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रही है. एसडीएम सुनील कुमा चंद्रवंशी के नेतृत्व में टीम शहर के भीड़ भरे क्षेत्रों, बस स्टैण्ड और शराब दुकानों पर पहुंचकर लोगों को सुरक्षित रहने, भीड़ एकत्र नहीं करने, ठेले गुमटियां और चखना सेंटर बंद करने के सख्त निर्देश दिए. ऐसा नहीं करने पर उचित कार्रवाई करने के भी निर्देश दिया गया है.
अंतर्राजयीय बस सेवा पर प्रतिबंध

महासमुंद जिला ओडिशा सीमा से लगा हुआ है. जिसे देखते हुए कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने दूसरे प्रदेशों से चलने वाले अंतर्राजयीय बस सेवा पर आगामी आदेश तक प्रतिबंध लगा दिया है. साथ ही बस संचालकों को निर्देशित किया गया है कि आने-जाने वाले लोगों के हाथ धुलाने और उनसे पूछ परख करें ताकि बाहरी प्रदेशों और दूसरे देशों से दौरा कर आने वालों की जानकारी लग सके.

सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई की तैयारी.


सख्त कार्रवाई करेगा प्रशासन

एक तरफ जहां कोरोना वायरस को लेकर सरकार लगातार लोगों को जागरूक होने की अपील कर रही है. लोगों को मास्क लगाने और हाथ धोने की अपील कर रही है, वहीं दूसरी तरफ बाजार और मेडिकल स्टोरों से सेनिटाइजर और मास्क गायब है. मांग अधिक होने के कारण जिन दुकानों में मास्क है भी उन्हें दोगुनी कीमत पर बेची जा रही है. ज्यादातर दुकानों में मास्क और सेनेटाइजर नहीं होने के कारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है. कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने कहा कि जिन भी दुकानों से ऐसी सूचना मिलती है कि इस तरक के जरूरी सामानों को स्टोर कर के रखा गया है, ऐसे व्यापारियों पर सख्त कार्रवाई भी की जाएगी.

'छुपाए नहीं सामने आए लोग' 

कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने अपील की है कि जो भी व्यक्ति 26 फरवरी के बाद विदेश दौरे से लौटे है वो अपनी पहचान छुपाए नहीं, बल्कि सामने आए और समाज की सुरक्षा के लिए अपनी जांच कराए. ऐसे व्यक्तियों की पहचान को गोपनीय भी रखने की अपील कलेक्टर ने की है. कलेक्टर ने सख्त चेतावनी देते हुए कहा है कि सोशल मीडिया में कोरोना को लेकर अफवाह फैलाना अपराध की श्रेणी में आता है. यदि कोई ऐसा करते पाया जाता है तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी. वहीं पुलिस ने सभी नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि अगर आपके आस-पास कोई बाहरी व्यक्ति आकर रह रहा है या एक दो दिन में दूसरे प्रान्तों, विदेशों से भ्रमण कर वापस कोई पड़ोसी, रिस्तेदार आए हो तो पुलिस को इसकी सूचना जरूर दें. या फिर पुलिस नियंत्रण रूम, जिला प्रशासन को इसकी सूचना दे साथ ही स्वयं सावधान रहें और दूसरों को भी सावधान करें. पुलिस ने लोगों को घबराएं नहीं बल्कि शांति व्यवस्था बनाये रखने की अपील की है.

ये भी पढ़ें: 

COVID-19: पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद सरकार अलर्ट, लिए ये बड़े फैसले 

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महासमुंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 9:18 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading