Home /News /chhattisgarh /

महासमुंद: छुट्टी लेकर घर जाने वाला था CRPF जवान, ठीक एक दिन पहले फंदे पर लटका मिला शव

महासमुंद: छुट्टी लेकर घर जाने वाला था CRPF जवान, ठीक एक दिन पहले फंदे पर लटका मिला शव

महासमुंद में सीआरपीएफ जवान का संदिग्ध परिस्थिति में मिला शव.

महासमुंद में सीआरपीएफ जवान का संदिग्ध परिस्थिति में मिला शव.

Chhattisgarh Crime News: छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले में रेलवे पुलिस के एक आरक्षक का शव संदिग्ध परिस्थिति में फांसी के फंदे (Suicide) पर लटका मिला. मृतक के परिजनों ने हत्या (Murder) की आशंका जताई है.

महासमुंद. छत्तीसगढ़ के महासमुंद (Mahasamund) में रेलवे पुलिस के आरक्षक आलोक साहू का शव मंगलवार सुबह शहर के मेघबसंत कॉलोनी में किराए के मकान पर संदेहास्पद स्थिति में फांसी पर लटका पाया गया. फांसी पर लटके शव के सिर पर गंभीर चोट के निशान मिले है. पुलिस का मानना है कि मृतक फांसी लगने से पहले गिरा होगा, जिस वजह से उसके सिर पर चोट लगी. फिर उसने फांसी लगा ली होगी. लेकिन मृतक के परिजनों का कहना है कि किसी ने हत्या कर फांसी पर लटका दिया है. परिवार का कहना है कि  आलोक स्वभाव से बहुत ही शांत और मेहनती था. फांसी लगाने की बात वह सोच भी नहीं सकता.

आपको बता दें कि आरपीएफ का आरक्षक आलोक साहू (23 साल), हरिहर ओडिशा का रहने वाला था. पिछले 4 माह से महासमुंद रेलवे पुलिस में वाटर केरियर आरक्षक के पद पर पदस्थ था. मृतक आलोक 18 अक्टूबर को अपने घर जाने के लिए आपने अधिकारी से पांच दिन की छुट्टी मांगा थी, जिसे आरपीएफ के टीआई गोटिया ने मंजूर कर लिया था.

किराए के मकान में रहता था जवान

मृतक आलोक साहू छुट्टी लेकर अपने किराए के मकान में मेघ बसंत में सोमवार दोपहर 3 बजे पंहुचा. इसके बाद से ही वह अपने मकान में था जहां उसकी संदिग्ध परिस्थिति में फांसी पर लटकी लाश पाई गई. आरपीएफ के अधिकारी ने मृतक को छुट्टी दे दी थी, लेकिन उसने छुट्टी की डायरी में रवानगी दर्ज नहीं कराई थी. इसलिए मंगलवार शाम को आलोक साहू को फोन लगाया गया, लेकिन आलोक ने फोन रिसीव नहीं किया. इसके बाद आरपीएफ द्वारा मृतक आलोक साहू के मकान मालिक विपिन बिहारी महंती की पत्नी को फोन लगाया गया. तब उन्होंने आलोक साहू के कमरे पर जाकर देखा तो उसने पाया कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद है.

मकान मालकिन द्वारा आलोक साहू को आवाज देने पर अंदर से ना ही कोई हलचल हुई ना किसी प्रकार की कोई आवाज आई. मकान मालकिन को संदेह हुआ और उसने आरपीएफ को जानकारी दी जिसके बाद रेलवे पुलिस के टीआई गोटिया द्वारा सिटी कोतवाली पुलिस को मामले की जानकारी दी गई. सिटी कोतवाली पुलिस मामले की जानकारी मिलते ही तत्काल घटनास्थल पहुंची. आलोक साहू के कमरे से किसी प्रकार की कोई हलचल गतिविधि नहीं होने के बाद पुलिस ने संदेह के आधार पर दरवाजा थोड़ा और अंदर प्रवेश किया जहां पाया गया कि आलोक साहू फांसी पर लटका हुआ है.

ये भी पढ़ें: Churu News: करंट लगने से मासूम की मौत, बड़ा भाई झुलसा, हालत नाजुक

परिवार ने जताई हत्या की आशंका

सिटी कोतवाली पुलिस और रेलवे पुलिस ने मृतक आलोक साहू के परिजनों को मामले की सूचना दी. परिजनों ने संदेश जताया है कि मृतक को पहले किसी भारी चीज से मारा गया होगा, उसके बाद उसे फांसी पर लटका दिया गया है. महासमुंद रेलवे पुलिस के टीआई गोटिया का कहना है कि एक हफ्ते पहले मृतक आलोक साहू विभाग की तरफ से खेल कर आया था. पिछले 4 महीने से महासमुंद रेलवे पुलिस में पदस्थ है. इस दौरान किसी भी प्रकार से उसे बहुत ज्यादा मानसिक रूप से परेशान नहीं पाया गया. लेकिन उसने ये जरूरत बताया था कि उसके पिता प्रहलाद साहू को एनीमिया की बीमारी है. इसी बात को लेकर वह चिंतित था. उसने अपने पिता को इलाज कराने ले जाने के लिए ही पांच दिन की छुट्टी की दरखास्त दी थी, जिसे मंजूर भी कर लिया गया था.

Tags: Crime News, CRPF Jawan Death, Suicide

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर