यू ट्यूब से सीख छापने लगे नकली नोट, 4 लाख के जाली नोट के साथ 2 गिरफ्तार

सांकेतिक फोटो.

सांकेतिक फोटो.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की महासमुंद पुलिस (Mahasamund Police) ने नकली नोट (Fake Note) के सौदागरों को पकड़ने में सफलता हासिल करने का दावा किया है.

  • Share this:

महासमुंद. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) की महासमुंद पुलिस (Mahasamund Police) ने नकली नोट (Fake Note) के  सौदागरों को पकड़ने में सफलता हासिल करने का दावा किया है. दावा किया जा रहा है साइबर सेल और पिथौरा पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए 3 युवकों को नकली नोट के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार किया है. पुलिस ने आरोपियों से 4 लाख 32 हजार 860 रुपए के नकली नोट बरामद किए हैं. साथ ही एक प्रिंटर, ब्रांड पेपर, कैची, हरा टेप, कलर पेन, प्रिंट इंक सहित 3 मोबाइल भी बरामद किया गया है. आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे यू ट्यूब से नकली नोट छापना सीखे थे.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक पकड़े गए आरोपियों का नाम तेजेश्वर दास मानिकपुरी, योगेंद्र दास मानिकपुरी, अविनाश फुले है. इनमें से 2 आरोपी जरौद कलाई आरंग और 1 डब्ल्यूआरएस कॉलोनी रायपुर का निवासी है. एसडीओपी पिथौरा पुपलेश पात्रे ने बताया कि आरोपी पिछले 3 माह से नकली नोट खपा रहे थे. आरंग, गुल्लू, बलौदाबाजार क्षेत्र में एक से डेढ़ लाख  के नकली नोट खपाने की आशंका जताई जा रही है.

इन क्षेत्रों में खपाते थे नकली नोट

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी शराब दुकान, मड़ई मेला और ग्रामीण क्षेत्रों में नकली नोट खपाने का काम करते थे. उन्होंने यह भी बताया कि आरोपी यू-ट्यूब से नोट छापने का वीडियो देखकर नकली नोट छापने का काम किया करते थे. पिथौरा के गड़बेड़ा चौक के पास से आरोपियों की गिरफ्तारी की गईं है. तीनों पिथौरा क्षेत्र में नकली नोट खपाने के फिराक में आये थे. पुलिस इस मामले में और लोगों के शामिल होने की आशंका जता रही है. आरोपितों से पूछताछ के बाद इस गिरोह में शामिल अन्य लोगों को भी पकड़ा जा सकता है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज