लाइव टीवी

महासमुंद: किसानों ने प्रदर्शन कर अपनी आवाज की बुलंद, ये है वजह

Manohar Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: February 14, 2019, 5:50 PM IST
महासमुंद: किसानों ने प्रदर्शन कर अपनी आवाज की बुलंद, ये है वजह
संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि प्रदेश में किसानों ने भूपेश सरकार के वादों और किसान हित के मेनीफेस्टो को देखते हुए कांग्रेस की सरकार पर अपनी मुहर लगाई है.

संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि प्रदेश में किसानों ने भूपेश सरकार के वादों और किसान हित के मेनीफेस्टो को देखते हुए कांग्रेस की सरकार पर अपनी मुहर लगाई है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले महासमुंद जिले में गुरुवार को किसानों ने धरना-प्रदर्शन कर अपनी आवाज बुलंद की. शहर के लोहिया चौक में क्षेत्र के किसान प्रमुखों ने अपने 11 सूत्रीय मांगों को लेकर आवाज बुलंद की. संगठन के पदाधिकारियों का कहना है कि प्रदेश में किसानों ने भूपेश सरकार के वादों और किसान हित के मेनीफेस्टो को देखते हुए कांग्रेस की सरकार पर अपनी मुहर लगाई है.

किसान मोर्चा के पदाधिकारियों का कहना है कि सूबे में कांग्रेस की सरकार किसानों के साथ छलावा और ठगी का जाल बुन रही है जिसे देखते हुए किसान मोर्चा को एक बार फिर कमान संभालना पड़ा है और जरूरत पड़ी तो लोकसभा चुनाव में अपनी एकता दिखाने किसान तैयार है. किसानों की मांग है कि भूपेश सरकार के वादे के मुताबिक 2 साल का बकाया बोनस दे.

किसानों का दाना दाना धान समर्थन मूल्य में खरीदें, जो व्यापारी समर्थन मूल्य से कम में खरीदी कर रहें है उन पर कार्रवाई करें. किसानों के राजस्व के लंबित प्रकरणों का निपटारा करें और प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की ओर अपना कदम बढ़ाए. किसान मोर्चा ने चेतावनी देते हुए कहा है यदि सरकार अपने वादों से मुकरती है तो किसान सड़क पर आकर अपनी लड़ाई लड़ेंगे और ब्लॉक से लेकर जिले तक और राजधानी में प्रदर्शन करेंगे.

ये भी पढ़ें:

VIDEO: महासमुंद में पेंशन के लिए बुजुर्ग सरकारी दफ्तरों के लगा रहे चक्कर

लोकसभा चुनाव: भाजपा और कांग्रेस में कवायद तेज, इन अभियानों से जनता को साधने की कोशिश

लोकसभा चुनाव 2019: अब 'नाराज' किसानों को मनाने की कोशिश में बीजेपी, बन रही नई रणनीतिएक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स  

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महासमुंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 14, 2019, 5:49 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर