यूरोप के वर्ल्ड योग फेस्टिवल में छत्तीसगढ़ के दिव्यांग छात्र ने जीता तीन मेडल

दिव्यांग छात्र तोरण अपनी जीत का श्रेय अपने मां-बाप और गुरूजनों को देते हुए योग में ही अपना भविष्य बनाना चाहते है.

Manohar Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: July 9, 2019, 6:09 PM IST
यूरोप के वर्ल्ड योग फेस्टिवल में छत्तीसगढ़ के दिव्यांग छात्र ने जीता तीन मेडल
तोरण ने यूरोप में आयोजित चौथी वर्ल्ड योग फेस्टेवल एण्ड चैंपियनसिप 2019 प्रतियोगिता में भारत के लिए तीन पदक लाकर देश का नाम रोशन किया है.
Manohar Singh Rajput
Manohar Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: July 9, 2019, 6:09 PM IST
छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के एक दिव्यांग छात्र ने यूरोप में पूरे प्रदेश का मान बढ़ाया है. यूरोप में आयोजित चौथी वर्ल्ड योग फेस्टिवल एण्ड चैंपियनसिप 2019 प्रतियोगिता में भारत के लिए तीन पदक लाकर देश का नाम रोशन किया है. दिव्यांग छात्र तोरण जहां इसका श्रेय अपने मां-बाप और गुरूजनों को देते हुए योग में ही अपना भविष्य बनाना चाहते है. वहीं तोरण के गुरूजन अपने शिष्य की कामयाबी पर गर्व महशूश कर रहे है.

दिव्यांगता को तोरण ने बनाई अपनी ताकत

महासमुंद जिले के ग्राम खट्टी का रहने वाला तोरण यादव बचपन से ही दिव्यांग है. पर तोरण ने अपने आप को कभी भी दिव्यांग नहीं समझा. तोरण ने 9 साल की उम्र से ही योग करना शुरू किया. तोरण की ये मेहनत रंग लाई और उसका चयन चौथी वर्ल्ड योग फेस्टेवल एण्ड चैंपियनशिप 2019 में इंडियन टीम के लिए हुआ.

chhattisgarh news, छत्तीसगढ़ latest news, छत्तीसगढ़ समाचार, Chhattisgarh samachar,Chhattisgarh news in hindi, mahasamund, mahasamund news, chhattisgarh;s child won medal in europe, महासमुंद, महासमुंद के बच्चे ने जीता मेडस, महासमुंद के दिव्यांग बच्चे ने जीता यूरोप में मेडल
यूरोप में आयोजित चौथी वर्ल्ड योग फेस्टिवल एण्ड चैंपियनसिप 2019 प्रतियोगिता में भारत के लिए तीन पदक लाकर देश का नाम रोशन किया है.


तोरण ने बुलगेरिया यूरोप में 28 से 30 जून तक होने वाले चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए रिदमिक पेयर और आर्टिस्टिक पेयर में दो रजत पदक हासिल किया. साथ ही एथलेटिक योगा में ब्रांज मैडल हासिल कर महासमुंद,छत्तीसगढ़ के साथ-साथ पूरे भारत का नाम रोशन किया है. तोरण शासकीय वल्लभाचार्य कॉलेज महासमुंद के बीए प्रथम वर्ष के छात्र हैं. तोरण ने अपनी जीत का श्रेय मां-बाप एवं गुरूजन को दिया है. तोरण ने योग में ही अपना भविष्य बनाने की इच्छा जाहिर की है.

chhattisgarh news, छत्तीसगढ़ latest news, छत्तीसगढ़ समाचार, Chhattisgarh samachar,Chhattisgarh news in hindi, mahasamund, mahasamund news, chhattisgarh;s child won medal in europe, महासमुंद, महासमुंद के बच्चे ने जीता मेडस, महासमुंद के दिव्यांग बच्चे ने जीता यूरोप में मेडल
महासमुंद के तोरण यादव 9 साल की उम्र से योग कर रहे हैं.


तोरण के गुरू ने की सरकार से ये मांग
Loading...

अपने शिष्य के इस कामयाबी पर तोरण के गुरू भी गौरवान्ति महशूस कर रहे है. तोरण के शिक्षक गणेशराम कोसरे का कहना है कि खेल को स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जाना चाहिए ताकि छोटे-छोटे गांव की प्रतिभा निकलकर सामने आ सके. गौरतलब है कि तोरण इसके पहले भी चार राष्ट्रीय और 17 राज्य स्तरीय योग खेलों में अपना प्रदर्शन कर चुके है.
ये भी पढ़ें: 

सुकमा मुठभेड़: मारी गई महिला नक्सली निकली 8 लाख की इनामी कुराम भीमे, हुई शिनाख्त 

हाथियों के खौफ में मकान छोड़ तंबू लगाकर रात गुजार रहे लोग 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महासमुंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 9, 2019, 6:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...