लाइव टीवी

महासमुंद: गर्मी शुरू होते ही वन क्षेत्र में आग लगने की घटनाओं में इजाफा

Manohar Singh Rajput | News18 Chhattisgarh
Updated: March 24, 2018, 4:27 PM IST
महासमुंद: गर्मी शुरू होते ही वन क्षेत्र में आग लगने की घटनाओं में इजाफा
धूं धूं कर जल रहा जंगल

जंगल में आग लगने सैकड़ों एकड़ वन जलकर खाक हो रहे है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले के जंगलों में लग रही आग को रोक पाने में वन विभाग पूरी तरह फेल साबित हो रहा है. रोजान जिले के अलग-अलग हिस्सों से जंगल में आगजनी का मामला सामने आ रहा है. आए दिन जंगल में आग लगने से जिले के सैकड़ों एकड़ वनक्षेत्र जलकर खाक हो रहे है.

गर्मी का मौसम शुरू होते ही वन क्षेत्र में आगजनी की घटनाओं में काफी इजाफा हो गया है. आग लगने की घटना से जंगली जानवरों की परेशानी बढ़ गई है. यही कारण है कि जंगली जानवरों का पलायन अब वन क्षेत्रों से गांवों की तरफ हो रहा है. इससे अब जंगली क्षेत्रों में रहने वाले ग्रामीणों की चिंता बढ़ गई है.

आपको बता दें कि महासमुंद जिले में कुल 1 लाख 700 हेक्टेयर का रकबा जंगल में शामिल है. हर साल सरकारी आंकड़ों के हिसाब से 25 से 30 हजार हेक्टेयर के रकबे में आग लगने की घटना होती है. ज्यादातर घटनाओं में जंगली जानवरों में भगदड़ की स्थिति उत्पन्न होती है. कीमती लकड़ियां, जड़ी-बूटी आदि जल कर खाक हो रही है.

शासन द्वारा हर साल जंगल को आग से बचाने के लिए लाखों-करोड़ों रूपए खर्च किया जाता है. लेकिन बावजूद इसके विभाग के जिम्मेदार अधिकारी इसे रोक पाने में नाकाम साबित हो रहे है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महासमुंद से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2018, 4:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर