छत्तीसगढ़: जंगल में चीतल का शिकार कर पकाने जा रहे थे मांस, शिकारी गिरफ्तार
Mungeli News in Hindi

छत्तीसगढ़: जंगल में चीतल का शिकार कर पकाने जा रहे थे मांस, शिकारी गिरफ्तार
मुंगेली के अचानकमार टाइगर रिजर्व में शिकार का मामला पकड़ा गया है.

मुंगेली (Mungeli) के अचानकमार टाइगर रिजर्व (Achanakmar Tiger Reserve) के सुरही वनपरिक्षेत्र में शिकारियों द्वारा वन्यजीव का शिकार कर उसे खाने की तैयारी की जा रही थी.

  • Share this:
मुंगेली. छत्तीसगढ़ के मुंगेली (Mungeli) जिले में अचानकमार टाइगर रिजर्व (Achanakmar Tiger Reserve) के जंगलों में वन्य जीवों का शिकार का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. तेंदुए का शिकार करने को लेकर हुए बड़े बवाल के बाद अब चीतल के शिकार का मामला सामने आया है. अचानकमार टाइगर रिजर्व के जंगलों से आए दिन वन्यजीवों के शिकार औऱ हरे-भरे पेड़ो के अवैध कटाई की शिकायत लगातार मिलते रहती है. बीते सोमवार को इसी तरह की शिकायत के बाद वन विभाग के अमले ने छापेमार कार्रवाई की. टीम ने शिकारियों को गिरफ्तार कर लिया है.

अचानकमार टाइगर रिजर्व के सुरही वन क्षेत्र में शिकारियों द्वारा वन्यजीव का शिकार कर उसे खाने की तैयारी की जा रही थी. मुखबिर से वन्यजीव के शिकार की जानकारी मिलने पर एटीआर की उपसंचालक विजया रात्रे को मिली, जिसके बाद फॉरेस्‍ट टीम ने सुरही के एक घर मे दबिश दी. जहां वन्यजीव चीतल के शिकार के बाद उसे पकाने की तैयारी की जा रही थी, जिसपर वन विभाग ने कार्रवाई करते हुए 5 किलो चीतल का पका हुआ मांस, शिकार में प्रयुक्त औजार, छोटे-बड़े तार के फंदे, कुल्हाड़ी आदि जब्त किया गया.

2 आरोपी गिरफ्तार
वन विभाग की टीम से मिली जानकारी के मुताबिक, शिकार के दो आरोपी पंचू बैगा औऱ मोटू बैगा को हिरासत में लिया गया. साथ ही मामले में संलिप्त अन्य आरोपियों की तलाश में टीम जुटी हुई है. आरोपियों को लोरमी थाने में रखा गया. पूछताछ की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया है. मामले में शामिल अन्य आरोपियों को भी जल्द ही गिरफ्तार करने का दावा किया जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज