Home /News /chhattisgarh /

dulha was brutally murdered 6 days before wedding crime related to dulhan sensational case busted cgnt

शादी से 6 दिन पहले दूल्हे का मर्डर, होने वाली दुल्हन से जुड़े वारदात के तार, जानें मामला

छत्तीसगढ़ की मुंगेली पुलिस ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

छत्तीसगढ़ की मुंगेली पुलिस ने हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

Murder In Mungeli: 20 मई को दीपक धुलिया की शादी होने वाली थी, लेकिन उससे छह दिन पहले दीपक की अधजली लाश पुलिस ने बरामद की. जलाने से पहले दीपक के साथ बुरी तरह मारपीट की गई थी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई. छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के इस मामले में पुलिस ने हैरान करने वाले खुलासे किए हैं. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा भी किया है.

अधिक पढ़ें ...

मुंगेली. छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के लोरमी इलाके में दो दिन पहले युवक की अधजली लाश मिलने के मामले की गुत्थी लोरमी पुलिस ने सुलझा ली है. मृतक दीपक धुलिया के हत्यारों को जेल के सलाखों के पीछे भेजने का दावा पुलिस ने किया है. पूरी घटना लोरमी के अघरिया बांध में एक युवक की अधजली अवस्था में मिले शव के बाद सामने आई.

शव की शिनाख्त पुलिस ने कोटा निवासी दीपक धुलिया के रूप में की गई है. दीपक के सिर को कुचलकर, उस पर पेट्रोल डालकर बेरहमी से मार डाला गया, सूचना मिलने के बाद लोरमी एसडीओपी माधुरी धिरही फारेंसिक व पुलिस टीम साथ मौके पर पहुंचे. टीम जांच मेंं जुटी. साइबर टीम की मदद ली गई, जिससे हत्या की इस जघन्य वारदात का खुलासा हुआ.

20 मई को होनी थी शादी

पुलिस के मुताबिक मृतक दीपक की शादी 20 मई को होने वाली थी, लेकिन उसके 6 दिन पहले ही जिस लड़की से उसकी शादी होने वाली थी. उसके प्रेमी ने अपने साथी के साथ मिलकर अपनी प्रेमिका के मंगेतर को रास्ते से हटाने के लिये उसकी निर्ममता से हत्या कर दी. हत्यारे प्रेमी रिंकू कुलमित्र ने अपने मौसरे भाई हीरालाल कश्यप के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से हत्या के घटना को अंजाम दिया. आरोपियों ने पहले मंगेतर दीपक को रुपये उधार देने और पार्टी मनाने का लालच दिया और अपने साथ लेकर अघरिया बांध पहुंचे. इससे पहले आरोपियों ने शराब ढाबे से खाना, माचिस और पेट्रोल खरीद कर रख लिया था. युवक जब नशे के गिरफ्त में आया तो पत्थर से उसे सिर को कुचल दिया और फिर अपने साथ लाया पेट्रोल उस पर डाला और आग लगा दी. घटना स्थल पर कोई आ न जाए, इस डर से आरोपी भाग गये.

इस तरह शुरू हुई जांच

लोरमी एसडीओपी माधुरी धिरही ने बताया कि पुलिस को जब सूचना मिली और मौके पर पहुंचे तो बड़ी चुनौती शव के पहचान की थी. पुलिस ने आसपास के सभी थाने में गुम इंसानों की पतासाजी की, जिसमें कोटा थाने में गुमशुदगी मिली और युवक के लाश की शिनाख्त हुई, जिसके बाद कड़ी दर कड़ी जुड़ती गई और दोनो हत्यारों की गिरफ्तारी करने में पुलिस कामयाब हुई. पुलिस ने आरोपियों को न्यायिक रिमांड पर जेल दाखिल कर दिया है.

Tags: Chhattisgarh news, Crime News

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर