महासमुंद के बाद मुंगेली में विचरण कर रहा हाथियों का झुंड, बढ़ा ग्रामीणों पर खतरा
Mungeli News in Hindi

महासमुंद के बाद मुंगेली में विचरण कर रहा हाथियों का झुंड, बढ़ा ग्रामीणों पर खतरा
पत्र में कहा गया है, "देश के कई बंदी हाथी टीबी से पीड़ित हैं."

छतीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुंगेली (Mungeli) हाथी (Elephant) के झुंड के आने से ग्रामीणों की चिंता बढ़ गई है.

  • Share this:
मुंगेली. छतीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुंगेली (Mungeli) हाथी (Elephant) के झुंड के आने से ग्रामीणों की चिंता बढ़ गई है. मुंगेली वनमंडल की तरफ हाथियों का झुंड लगातार बढ़ रहा है. इससे वनांचल औऱ वन गांवो के आसपास रहने वाले लोगो मे भारी दहशत का माहौल है. हाथियों को जंगल की ओर खदेड़ने का प्रयास किया जा रहा है. 4 दिन पहले करीब 17 हाथियों का दल महासमुंद के शहरी इलाकों में प्रवेश कर गया था, जिससे लोगों में दहशत बढ़ गई थी. इसके बाद अब मुंगेली के ग्रामीण इलाकों में ​हाथियों की वजह से दहशत है.

मुंगेली वनमंडल के डीएफओ कुमार निशांत ने न्यूज 18 से बातचीत में बताया कि 12-15 हाथियों का झुंड की कुछ दिनों से अचानकमार टाईगर रिजर्व के जंगल में कोर जोन में होने की जानकारी मिल रही थी, लेकिन आज इन हाथियों का झुंड सुरही बोइरहा पटपरहा गांव के आसपास पहुंचा है, जिससे ग्रामीण डरे हुए हैं. डीएफओ कुमार निशांत ने बताया कि सभी गांव में मुनादी कराई गई है. हाथियों से सतर्क करने के लिए पाम्पलेट चिपकाए गए हैं. साथ ही खुद औऱ वनकर्मी भी ग्रामीणों से मिलकर समझाईश दे रहे हैं कि जब तक हाथी का झुंड जंगल मे सक्रिय है ग्रामीण जंगल में मत जाए औऱ सावधान रहें.

घरों में न रखें महुआ
डीएफओ निशांत ने ग्रामीणों से अपील की है कि वो महुआ घरों में न रखें. क्योंकि उसके गन्ध से हाथी नुकसान कर सकते हैं. डीएफओ ने कलेक्टर औऱ एसपी को भी पूरे मामले की जानकारी दी है. जिसके बाद खुड़िया चौकी प्रभारी व राजस्व अमले को भी सतर्क किया गया है. जिससे किसी तरह की कोई अप्रिय घटना न घटे औऱ बिना किसी नुकसान करे हाथियों का दल जंगल के रास्ते आगे निकल जाए औऱ यह खतरा टल जाए. क्योंकि इसके पहले भी जो हाथी आये थे वो ओरापानी होते हुए मध्यप्रदेश डिंडौरी की तरफ निकला था. हाथियों की धमक से वनांचल में लोगो की आवाजाही काफी हद तक कम हुई है औऱ लॉकडाउन के दौरान किसी भी हादसे का शिकार होने से बचने के लिए फ़िलहाल ये सावधानी बहुत जरूरी बताई जा रही है.
ये भी पढ़ें:


4 ट्रेनों में होगी छत्तीसगढ़ के मजदूरों की वापसी, कराएं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, ये हेल्प लाइन नंबर भी जारी

विशाखापट्टनम, रायगढ़ के बाद अब भिलाई स्टील प्लांट में देर रात हादसा, रेल मिल का एक कर्मचरी घायल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज