अपना शहर चुनें

States

बच्चा चोरी के आरोप में युवक की मॉब लिंचिंग, अफवाहों को देखते हुए पुलिस सतर्क

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिला में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. (सांकेतिक फोटो)
छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिला में मॉब लिंचिंग का मामला सामने आया है. (सांकेतिक फोटो)

मामले की गंभीरता को समझते हुए मुंगेली एसपी सीडी टंडन ने सभी थाना प्रभारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिये हैं. साथ ही आम लोगों से भी अफवाहों से बचने की अपील की है.

  • Share this:
मुंगेली. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के मुंगेली (Mungeli) जिले में मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) का मामला सामने आया है. जिले के कोतवाली के मानपुर में बच्चा चोरी (Child Theft) के आरोप में ग्रामीणों ने एक संदिग्ध युवक की जबरदस्त पिटाई कर दी. वहीं एक अन्य घटना में लोरमी (Lormi) नगर के वार्ड नंबर 1 के खुडिया चौकी में भी बच्चा चोरी करने के आरोप में संदिग्ध शख्स की पिटाई कर दी गई. ग्रामीणों ने संदिग्ध युवक की जमकर पिटाई की और उसे पुलिस के हवाले कर दिया. पुलिस ने संदिग्ध से पूछताछ की तो पता चला कि वो धमतरी जिले का रहने वाला है औ किसी काम के सिलसिले में यहां आया था.

दरअसल मुंगेली जिले में इन दिनों बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की अफवाह फैली है. इससे इलाके में जो कोई भी संदिग्ध नजर आता है, वो ग्रामीणों के मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) का शिकार बन जा रहा है. गांव-गांव में लोग बच्चा चोरी की खबरों से डरे-सहमे हुये हैं. मुंगेली में फास्टरपुर थाना इलाके में मॉब लिंचिंग के लगातार कई मामले सामने आने से पुलिस सतर्क हो गई है.

सोशल मीडिया ने बढ़ाई चिंता
पुलिस (Police) की मानें तो सोशल मीडिया पर इन​ दिनों मुंगेली में बच्चा चोर गिरोह सक्रिय होने की अफवाहों का जोर है. इससे ग्रामीणों की चिंता बढ़ गई है. वो गांव और आसपास किसी भी संदिग्ध को देखने पर आक्रोशित हो जा रहे हैं और बिना सोचे-समझे पकड़कर उसकी पिटाई कर दे रहे हैं. बाद में ग्रामीण ही पुलिस को इस संबंध में सूचना देते हैं. मामले की गंभीरता को समझते हुए मुंगेली एसपी सीडी टंडन ने सभी थाना प्रभारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिये हैं. साथ ही आम लोगों से भी अफवाहों से बचने की अपील की है.
ये भी पढ़ें: बापू की 150वीं जयंती को खास बनाएगी छत्तीसगढ़ सरकार, नये कलेवर नजर आएंगे MLA 



पुलिस कर्मियों को सालों की मांग के बाद मिली इस सुविधा में भी कटौती, हो सकता है आंदोलन 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज