Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    11 भाइयों के चोर गिरोह से पुलिस ने बरामद किया 3 ट्रैक्‍टर माल!

    चोर गिरोह के गिरफ्तार सदस्‍य (बैठे हुए) और उन्‍हें पकड़ने वाली पुलिस टीम. फोटो : न्‍यूज़18/ईटीवी
    चोर गिरोह के गिरफ्तार सदस्‍य (बैठे हुए) और उन्‍हें पकड़ने वाली पुलिस टीम. फोटो : न्‍यूज़18/ईटीवी

    छत्‍तीसगढ़ के मुंगेली जिले में पुलिस ने 11 भाइयों के चोर गिरोह के 8 सदस्‍यों को गिरफ्तार कर उनसे चाेरी का तीन ट्रैक्‍टर माल बरामद किया है.

    • Share this:
    छत्‍तीसगढ़ के मुंगेली जिले में पुलिस ने 11 भाइयों के चोर गिरोह के 8 सदस्‍यों को गिरफ्तार कर उनसे चाेरी का तीन ट्रैक्‍टर माल बरामद किया है. इनके आलीशान और सभी सुख-सुविधाओं से लैस मकानों को देखकर पुलिस हैरान रह गई.

    मुंगेली एसपी नीतू कमल ने बताया कि चोरी के एक बड़े मामले को सुलझाने में मुंगेली पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. लाखों का माल जब्त करते हुए पुलिस ने 8 शातिर चोरों को गिरफ्तार किया है. ये सभी चोर एक ही परिवार के हैं और सभी भाई हैं.

    उन्‍होंने बताया कि ये गिरोह 11 भाइयों का है, जो चोरी की वारदातों को अंजाम देता था. ये सभी चोर मुंगेली जिले के फंदवानी कापा गांव में रहते हैं. इनके घर बहुत आलीशान और सभी सुख-सुविधाओं से लैस हैं. इस चोर गिरोह के पकड़े गए सदस्‍यों के नाम गुलाब, देवप्रसाद, कलप, तुलाराम, राजेश, राजेंद्र, सुरेश और वकील आर्य सतनामी है. ये चोर लोरमी, मुंगेली और लालपुर इलाके में चोरी करते थे. ये लोग चोरियों में किसी वाहन का प्रयोग नहीं करते बल्कि सामान को खुद ढोकर लाते थे.



    नीतू कमल ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिलने पर एसडीओपी प्रफुल्ल किस्पोट्टा के नेतृत्व में कोतवाली टीआई हरविंदर सिंह सहित लगभग 80 पुलिसकर्मियों की टीम बनाई गई थी. इस टीम ने चोरों के गांव में छापा मारा, जहां से आठ चोरों की गिरफ्तारी की गई.
    इनके घरों से चोरी का इतना चोरी का इतना माल बरामद हुआ कि पुलिस भी हैरान रह गई. चोरी के सामान को 3 ट्रैक्टर में लोड करके थाने लाया गया. जब्त सामान को देखकर लगा कि इससे दो-तीन दुकानें खुल जाएंगी. इन भाइयों के चोर गिरोह ने चोरी की 12 वारदातें करना कबूल किया है.

    इन सभी चोरों पहले से ही आपराधिक रिकार्ड रहा है. इन चोरों के बाप की भी हत्या चोरी करने के दौरान हुई थी. वहीं पुछताछ में जुटी पुलिस को और भी कई मामलों के सुलझने की उम्मीद है.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज