Assembly Banner 2021

गर्भवती महिला को रात भर अस्पताल रखने के बाद रेफर किया, मौत

मौत के बाद हंगामा करते लोग 
 फोटो- ईटीवी

मौत के बाद हंगामा करते लोग फोटो- ईटीवी

मुंगेली जिले के लोरमी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दो दिन पहले प्रसव के लिए आई एक महिला को रात भर अस्पताल में रखने के बाद सुबह बिलासपुर के लिए रेफर कर दिया गया. वहां पहुंचते- पहुंचते प्रसूता की मौत हो गई.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले के लोरमी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दो दिन पहले प्रसव के लिए आई सविता जायसवाल नाम की एक महिला को रात भर अस्पताल में रखने के बाद सुबह बिलासपुर के लिए रेफर कर दिया गया. वहां पहुंचते- पहुंचते प्रसूता  सविता की मौत हो गई. साथ ही उसके गर्भ में पल रहे जुड़वां बच्चों ने भी दम तोड़ दिया.

महिला और बच्चों की मौत के बाद परिजनों ने लोरमी अस्पताल पर लापरवाही का आरोप लगाया है. मामला गरमाने लगा है. इसके बाद से लोग आक्रोशित हैं और इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने इसकी जांच शुरू की है.

मामले की जांच के लिए बिलासपुर से स्वास्थ विभाग की ज्वाइंट डायरेक्टर मधुलिका सिंह लोरमी पहुंचीं और ड्यूटी पर तैनात सभी कर्मियों का बयान लिया. साथ ही लापरवाही के लिए स्टाफ नर्स कविता गुप्ता का निलंबित भी कर दिया.



मधुलिका सिंह ने जांच के बाद अन्य दोषियों पर भी कार्रवाई का भरोसा दिया है. इस बीच परिजनों ने एसडीएम को दोषियों के खिलाफ उचित कार्रवाई करने और मुआवजे की मांग का ज्ञापन सौंपा.
स्थानीय लोगों में इसे लेकर आक्रोश है, वे सवाल कर रहे हैं कि आखिर कब तक बेहतर इलाज के अभाव और डाक्टरों की लापरवाही के चलते इन गरीबों की मौतें होती रहेंगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज