होम /न्यूज /छत्तीसगढ़ /काम बंद पर हड़ताल पर गए सफाई कर्मी, प्रशासन पर लगाया ये बड़ा आरोप

काम बंद पर हड़ताल पर गए सफाई कर्मी, प्रशासन पर लगाया ये बड़ा आरोप

हड़ताल से सफाई व्यवस्था बिगड़ गई है.

हड़ताल से सफाई व्यवस्था बिगड़ गई है.

गोल बाजार के व्यापारी दिनेश ने बताया कि सुबह जब दुकान पहुंचे तो गली और सड़क में कचरा ही कचरा पसरा है, जिससे बहुत दिक्कत ...अधिक पढ़ें

मुंगेली.  मुंगेली नगर पालिका (Mungeli Municipality) का हाल इन दिनों काफी बुरा है. आए दिन विवाद की स्थिति बनी रहती है. वहीं शनिवार को सफाई कर्मियों काम बंद कर हड़ताल पर चले गए, इस वजह से नगर पालिका की मुसीबत और बढ़ गई है. शहर में साफ-सफाई नहीं होने से चारों तरफ गंदगी का अंबार लगा है. इस वजह से लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. खासकर, गोल बाजार, सदर बाजार, बस स्टैंड और मल्हापारा इलाकों की गलियों में कूड़ा करकट का ढेर पड़ा है. इससे उठ रही बदबू से आने-जाने वालों को भी बहुत परेशानी हो रही है. गोल बाजार के व्यापारी दिनेश ने बताया कि सुबह जब दुकान पहुंचे तो गली और सड़क में कचरा ही कचरा पसरा है, जिससे बहुत दिक्कत हो रही है.


इस वजह से नाराज है कर्मचारी


काम बंद कर हड़ताल पर बैठे सफाईकर्मियों का आरोप है कि उसके 3 साथी कर्मियों को काम से बाहर निकाल दिया गया है. इसके विरोध में सभी सफाई कर्मी काम बंद कर हड़ताल कर रहे है. साथ ही कर्मचारियों ने मांग की है कि निकाले गए कर्मचारियों को काम पर वापस लिया जाए. उनका कहना है कि जब तक कर्मचारियों को काम पर नहीं लिया जाएगा हड़ताल जारी रहेगी.


अधिकारी व्यवस्था को सुधारने का कर रहे प्रयास


मुंगेली नगर पालिका के सीएमओ राजेन्द्र पात्रे ने बताया कि ड्यूटी से गायब रहने और काम नहीं करने के कारण 3 सफाई कर्मियों को दो महीने पहले निकाला गया था. निकाले गए कर्मचारियों के स्थान पर नए कर्मी रखे गए है. वहीं, निकाले गए कर्मचारी अब दबाव बनाने हड़ताल करा रहे है. नगर पालिका सीएमओ ने बताया कि शहर की साफ सफाई को व्यवस्थित रखने प्लेसमेंट एजेंसी के माध्यम से सफाई कर्मी के इंतजाम के निर्देश दिए गए है. नगर पालिका में नियमित-अनियमित सब मिलाकर 56 सफाई कर्मी कार्यरत है. वहीं सफाई कार्य की समय अवधि बढ़ाने से थोड़ी दिक्कत हो रही है.



ये भी पढ़ें: 




Tags: Chhattisgarh news, Mungeli news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें