दुर्ग की तरह मुंगेली में भी महिला कमांडो का गठन किया जाएगा : आईजी

बिलासपुर आईजी दीपांशु काबरा का कहना है कि मुंगेली जिले में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर विशेष कार्य किए जाएंगे. दुर्ग की तरह मुंगेली जिले में भी महिला कमांडो का गठन कर महिलाओं और युवतियों को अपनी सुरक्षा के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा.

Prashant Sharma | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 5:55 PM IST
दुर्ग की तरह मुंगेली में भी महिला कमांडो का गठन किया जाएगा : आईजी
मीडिया से चर्चा करते हुए आईजी दीपांशु काबरा.
Prashant Sharma
Prashant Sharma | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: January 14, 2018, 5:55 PM IST
छत्‍तीसगढ़ में बिलासपुर रेंज के आईजी दीपांशु काबरा पदभार ग्रहण करने के बाद शनिवार को पहली बार मुंगेली जिले के दौरे पर आए. यहां उन्‍होंने निरीक्षण करने के साथ ही एसपी सहित सभी पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर बेहतर पुलिसिंग के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए.

मीडिया से चर्चा में आईजी ने कहा कि मुंगेली में ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार के लिए पहल की जाएगी. आईजी ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर विशेष कार्य किए जाएंगे. दुर्ग की तरह मुंगेली जिले में भी महिला कमांडो का गठन कर महिलाओं और युवतियों को अपनी सुरक्षा के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा. आईजी ने नवागत मुंगेली पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर पर बेहतर पुलिसिंग के लिए भरोसा भी जताया.

आईजी दीपांशु काबरा ने बताया कि मध्यप्रदेश की सीमा से लगे मुंगेली जिले के वनांचल के गांवों में विशेष चौकसी बरती जाएगी. उन्‍होंने बताया कि सीमावर्ती गांवों में ग्राम सुरक्षा समितियां बनाई जाएंगी और ग्रामीणों से अच्छे संबंध बनाए जाएंगे, ताकि वहां से पुलिस को आसानी से जानकारियां मिल जाएं. आईजी दीपांशु काबरा ने फिलहाल इन सीमावर्ती गांवों में किसी भी तरह की नक्सल गतिविधियों से साफ इंकार किया, लेकिन कहा कि नक्सलियों द्वारा नए एरिया में विस्तार के लिए उस इलाके के कुछ गांव को चिन्हांकित करने की सूचना जरूर मिली थी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर