अपना शहर चुनें

States

बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित

नारायणपुर जिला प्रशासन द्वारा बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित की गई है, जिसमें पुलिस के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारी शामिल हैं. जो बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए बनाई गई टीम में हैं.
नारायणपुर जिला प्रशासन द्वारा बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित की गई है, जिसमें पुलिस के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारी शामिल हैं. जो बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए बनाई गई टीम में हैं.

नारायणपुर जिला प्रशासन द्वारा बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित की गई है, जिसमें पुलिस के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारी शामिल हैं. जो बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए बनाई गई टीम में हैं.

  • Share this:
नारायणपुर जिला प्रशासन द्वारा बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए 5 सदस्यीय टीम गठित की गई है, जिसमें पुलिस के साथ ही जिला प्रशासन के अधिकारी शामिल हैं. जो बंधुआ मजदूरों को रिहा करवाने के लिए बनाई गई टीम में हैं.

वहीं विगत दिनों टीम ने तमिलनाडू के नामक्कल से 4 मजदूरों को रिहा करवाया था, जिनकी सूचना पर नामक्कल में ही दबीश देकर टीम ने दलाल को गिरफ्तार किया है. जिसे शुक्रवार को गिरफ्तार कर नारायणपुर लाया गया.

पकड़े गए दलाल द्वारा जिले के कई मजदूरों को ज्यादा पैसे का लालच देकर अन्य राज्यों में काम करने के लिए ले जाया जाता रहा है. दलाल का नाम बी. प्रकाश चंद्रवंशी हैं. नारायणपुर जिले के ग्रामीण भोले-भाले आदिवासियों को ज्यादा मजदूरी का लालच देकर दलालों द्वारा अन्य राज्यो में काम करने के लिए ले जाया जाता हैं, जहां उन्हें बंधुआ मजदूर के रूप में कार्य करवाया जाता है.



उसके बदले उन्हें मेहनताना भी नहीं दिया जाता है और ये दलाल इन मजदूरों के पैसे भी हड़प लेते हैं. वहीं जिले के मजदूरों को वापस लाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा 5 सदस्यी टीम का गठन किया गया है, जो अन्य राज्यों में बंधुआ मजदूरों के रूप मे कार्य कर रहे मजदूरों को रिहा करवा रही है.
वहीं इस टीम ने इस बार दलाल को भी पकड़ने में सफलता हासिल की. वहीं नारायणपुर पुलिस आरोपी दलाल के खिलाफ कार्यवाही करने में जुटी हुई है.

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज