बीजापुर के सबसे बड़े ऑपरेशन को नक्सली सरगना ने बताया झूठ

Mukesh Chandrakar | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 19, 2017, 6:48 PM IST
बीजापुर के सबसे बड़े ऑपरेशन को नक्सली सरगना ने बताया झूठ
बस्तर के जंगल में नक्सली सरगना.
Mukesh Chandrakar | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: May 19, 2017, 6:48 PM IST
छत्तीसगढ़ के बस्तर के बीजापुर इलाके में सुरक्षा बलों द्वारा चलाए गए एंटी नक्सल ऑपरेशन को कुख्यात नक्सली जगदीश इरपा ने खारिज कर दिया है. सुरक्षा बलों ने रायगुडा हमले के बाद इसे अब तक का सबसे बड़ा एंटी नक्सल ऑपरेशन बताया था.

13 से 16 मई के बीच चलाए गये इस ऑपरेशन में बीजापुर से 350 की संख्या में निकले जवानों का सुकमा के सीमान्त गांव रायगुडा में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ हुआ था.

पुलिस ने दावा किया था कि मुठभेड़ में 15 से 20 नक्सली मारे गए. पुलिस के दावों के मुताबिक़ इस एनकाउंटर में 150 से अधिक नक्सली शामिल थे. सभी नक्सली कोबरा की वर्दी पहने हुए थे.

इसके बाद बस्तर के जंगलों में ईटीवी की टीम की मुलाक़ात नक्सलियों के जगरगुंडा एरिया कमेटी के डी.सी.एम. जगदीश इरपा से हुई.

इस संवाददाता ने जब जगदीश से इस एनकाउंटर की हकीकत जाननी चाही तो, उसने पुलिस के दावों को खारिज कर दिया. उसने दावा किया कि रायगुडा में हुए एनकाउंटर में नक्सलियों को किसी भी तरह का नुकसान नहीं हुआ. उसने कहा कि उस वक्त नक्सलियों की संख्या 150 भी नहीं थी.

नक्सलियों ने इस एनकाउंटर के बाद किये गए पुलिस के दावों को पूरी तरह से झुटला दिया है. रायगुडा हमले के बारे में जगदीश ने कहा कि पुलिस वाले ने ही गांव के घरों को जलाया और उसका आरोप नक्सलियों पर लगाया.
First published: May 19, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर