'नगद नारायण' की अफवाह से परेशान हैं CM रमन सिंह
Raipur News in Hindi

'नगद नारायण' की अफवाह से परेशान हैं CM रमन सिंह
पिछले कुछ दिनों से छत्तीसगढ़ में एक अफवाह की वजह से सीएम रमन सिंह और उनके सचिवालय के अधिकारी बड़ी मुश्किल में पड़ गए हैं. ये मामला जुड़ा है सीएम के गुरुवार को होने वाले जनदर्शन को लेकर. अफवाह है कि जनदर्शन में मुख्यमंत्री लोगों को आर्थिक सहायता भी देते हैं. फिर क्या था इसके बाद से सीएम के इस कार्यक्रम में जबरदस्त भीड़ उमड़ रही है. बीते गुरूवार को भी बड़ी संख्या में लोग मुख्यमंत्री निवास पहुचे गए और पैसा मांगने लगे.

पिछले कुछ दिनों से छत्तीसगढ़ में एक अफवाह की वजह से सीएम रमन सिंह और उनके सचिवालय के अधिकारी बड़ी मुश्किल में पड़ गए हैं. ये मामला जुड़ा है सीएम के गुरुवार को होने वाले जनदर्शन को लेकर. अफवाह है कि जनदर्शन में मुख्यमंत्री लोगों को आर्थिक सहायता भी देते हैं. फिर क्या था इसके बाद से सीएम के इस कार्यक्रम में जबरदस्त भीड़ उमड़ रही है. बीते गुरूवार को भी बड़ी संख्या में लोग मुख्यमंत्री निवास पहुचे गए और पैसा मांगने लगे.

  • Share this:
पिछले कुछ दिनों से छत्तीसगढ़ में एक अफवाह की वजह से सीएम रमन सिंह और उनके सचिवालय के अधिकारी बड़ी मुश्किल में पड़ गए हैं. ये मामला जुड़ा है सीएम के गुरुवार को होने वाले जनदर्शन को लेकर. अफवाह है कि जनदर्शन में मुख्यमंत्री लोगों को आर्थिक सहायता भी देते हैं. फिर क्या था इसके बाद से सीएम के इस कार्यक्रम में जबरदस्त भीड़ उमड़ रही है. बीते गुरूवार को भी बड़ी संख्या में लोग मुख्यमंत्री निवास पहुचे गए और पैसा मांगने लगे.

सीएम कार्यालय परेशान
इस अफवाह से मुख्यमंत्री सचिवालय सबसे ज्यादा परेशान है. आखिर यह अफवाह फैला कौन रहा है? गौरतलब है कि गुरुवार को जनदर्शन के लिए कुल 3167 आवेदन आए थे. मुख्यमंत्री से एक हजार से ज्यादा लोगों ने मुलाकात की. इनमें 49 प्रतिनिधिमंडल शामिल थे. वहीं 661 लोगों ने व्यक्तिगत समस्या के लिए आवेदन दिया था.

लेकिन पिछले तीन जनदर्शन में देखा गया कि कुछ लोग एक ही जैसे आवेदन लेकर आ रहे हैं और आर्थिक सहायता की मांग कर रहे हैं. इस बार बिलासपुर और कोरबा जिले से बड़ी संख्या में आवेदन प्राप्त हुए. जिन्हें देखकर मुख्यमंत्री भी चौंक गए.
सीएम ने दिए जांच के आदेश


ये अफवाह किसने फैलाई है इसकी जांच के आदेश सीएम रमन सिंह ने दी है. सीएम ने आशंका जताई है कि इस मामले किसी बिचौलिए का हाथ हो सकता है या फिर कोई सरकार की छवि खराब करने की साजिश रच रहा है.

जनदर्शन प्रभारी संजीव बख्शी का कहना कि जो कोई भी अफवाह फैला रहा पुलिस उसे जल्द गिरफ्तार कर लेगी. किसी भी को आर्थिक सहायता नगद नहीं दी जाती है. उसकी एक प्रकिया है और नियमपूर्वक आवेदन के तहत मदद की जाती है. साथ ही अपील भी जारी की गई है कि ऐसी अफवाह से लोग बचकर रहें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज