लाइव टीवी

बदहाल आंगनबाड़ी, 131 के भवन जर्जर और 433 में शौचालय नहीं

Yugal Tiwari | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: April 15, 2017, 2:26 PM IST
बदहाल आंगनबाड़ी, 131 के भवन जर्जर और 433 में शौचालय नहीं
यहां छोटे से कमरे में संचालित हो रहा आंगनबाड़ी केंद्र

रायगढ़ में आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति बहुत ही दयनीय है. 433 केंद्र ऐसे हैं जिनमें शौचालय तक नहीं है. इसके अलावा बहुतों के भवन जर्जर हालत में हैं.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में पर्याप्त संसाधन नहीं होने की वजह से आंगनबाड़ी तक पहुंचने वाले  बच्चों को सुविधाएं नहीं मिल रहीं. उन्हें केंद्रों में शौचालय जैसी बुनियादी सुविधाएं भी नहीं मिल पा रही हैं.

जर्जर हालत में हैं 131 केंद्र 

जिला महिला एंव बाल विकास अधिकारी अनिता अग्रवाल ने कहा कि जिले में 221 आंगनबाड़ी केंद्र ऐसे हैं जो भवनहीन हैं. इसमें मुख्य रूप से समस्या यह है कि इन भवनहीन केंद्रों के लिए जमीन नहीं हैं. इसलिए ये सारे आंगनबाड़ी केंद्र किराए के एक छोटे से कमरे में चल रहे हैं. इतना ही नहीं एक ही कमरे में बच्चों को पढ़ाया भी जा रहा है और भोजन भी कराया जाता है.

इसके अलावा जिले में कुल 433 आंगनबाड़ी केंद्र ऐसे हैं जहां शौचालय जैसी बुनियादी सुविधाएं भी नहीं हैं. साथ ही जिले के करीब 131 ऐसे आंगनबाड़ी केंद्र हैं जो काफी जर्जर हालत में हैं. अनिता अग्रवाल ने कहा कि 14वें वित्त आयोग के तहत नए भवन और शौचालय बनवाने का प्रयास जारी है. इसमें काफी कुछ स्वीकृत भी हुए हैं और बन भी रहे हैं.

पार्षद संजय देवांगन ने कहा कि शासन ने जिस नए आंगनबाड़ी का संचालन किया है वह आज भी भवनहीन है. उन्होंने कहा कि उनके वार्ड नंबर 6 में कुल 4 आंगनबाड़ी केंद्र हैं. इसमें भी बस एक ही केंद्र का भवन है. इस बाबत उन्होंने शासन से भवन बनवाने की मांग की है. ताकि बच्चों को पूरी व्यवस्था मिल सके. साथ ही बच्चे पढ़ाई के प्रति जागरूक होकर आंगनबाड़ी आने के लिए तत्पर हो सके.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 15, 2017, 2:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर