Assembly Banner 2021

दिल्ली से लौटे शख्स की छिपाई ट्रैवल हिस्ट्री, रायगढ़ के सरकारी कर्मचारी पर केस दर्ज

आरोपी की जल्द गिरफ्तारी हो सकती है. (Demo Pic)

आरोपी की जल्द गिरफ्तारी हो सकती है. (Demo Pic)

एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा का कहना है कि रायगढ़ पुलिस कोरोना के संक्रमण को रोकने पूरी मुस्तैदी के साथ डटी हुई है. इस वैश्विक महामारी को लेकर गंभीर लापरवाही बरतने पर एफाईआर (FIR) हुई है.

  • Share this:
रायगढ़. छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के एक सरकारी कर्मचारी पर दिल्ली से लौटे एक व्यक्ति की जानकारी छिपाने का आरोप लगा है. आरोप है कि कर्मचारी ने दिल्ली से लौटे शख्स की जानकारी स्थानीय प्रशासन को नहीं दी. साथ ही क्वारंटाइन का नियम भी तोड़ा. तहसीलदार ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी. शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी कर्मचारी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. आरोपी की जल्द गिरफ्तारी भी हो सकती है.

दरअसल, जनपद पंचायत बरमकेला में सहायक ग्रेड 2 के पद पर पदस्थ हरिप्रसाद पटेल का एक करीबी युवक 17 मई को दिल्ली से बिलासपुर ट्रेन से आया. फिर बिलासपुर में अपने रिश्तेदार को बुलाकर बाइक से ग्राम गोबरसिंहा पहुंचा. गोबरसिंहा पहुंचने के बाद गांव वालों को जानकारी हुई कि दिल्ली से आए व्यक्ति को घर में ही रखा गया है. गांव वालों के विरोध करने पर हरिप्रसाद पटेल ने उस करीबी को एक परिचित के घर भेजा और होम क्वारंटाइन का टैग को घर के बाहर लगा दिया. बताया जा रहा है कि वो रोज अपने करीबी युवक से मिलने भी जाता और उसे खाना पहुंचाता था.

Youtube Video




स्थानीय अधिकारियों को नहीं दी थी सूचना
मामले का पता चलने के बाद गांव वाले आपत्ति करने लगे, तब हरिप्रसाद पटेल ने अपने करीबी युवक को बीच बस्ती स्थित क्वारंटाइन सेंटर में भेज दिया लेकिन बरमकेला तहसीलदार या किसी अन्य अधिकारी को इस बात की जानकारी नहीं दी. सरकार की एडवाइजरी के अनदेखी करते हुए हरिप्रसाद दिल्ली से लौटे शख्स के संपर्क में रहा. बताया जा रहा है कि वो जनपद कार्यलाय भी आता-जाता रहता था. क्वारंटाइन किए गए शख्त का सैंपल जांच के लिए भेजा गया, रिपोर्ट पॉजिटिव आई. फिर हरिप्रसाद और बाकी लोगों का भी सैंपल टेस्ट के लिए भेजा गया. बताया जा रहा है कि सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई है.

बरमकेला तहसीलदार ने पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की. वहीं इस मामले में एडिशनल एसपी अभिषेक वर्मा का कहना है कि रायगढ़ पुलिस कोरोना के संक्रमण को रोकने पूरी मुस्तैदी के साथ डटी हुई है. इस वैश्विक महामारी को लेकर गंभीर लापरवाही बरतने पर एफाईआर हुई है. पूरे मामले की जांच जारी है. दोषी पाए जाने पर दूसरे लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई होगी. मालूम हो कि कोरोना मरीज मिलने वाले जगहों को कंटेनमेंट जोन सरकार ने घोषित किया है. यहां नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें: 

Unlock 1.0: रायपुर की सड़कों पर फिर दौड़ेगी 378 सिटी बसें, सरकार ने तय किए सख्त नियम

COVID-19 Update: छत्तीसगढ़ में एक्टिव केस 427, 500 से ज्यादा संक्रमित, 7 मरीज हुए डिस्चार्ज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज