अपना शहर चुनें

States

लिव-इन में रह रही युवती ने की अपने पांच दिन के बेटे की हत्या, फिर तालाब में फेंक दिया शव

रायगढ़ पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक युवती ने जन्म देने के 5वें दिन ही नवजात का गला घोंटकर हत्या कर दी. (सांकेतिक चित्र)
रायगढ़ पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक युवती ने जन्म देने के 5वें दिन ही नवजात का गला घोंटकर हत्या कर दी. (सांकेतिक चित्र)

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के रायगढ़ (Raigad) जिले में एक नवजात की हत्या (Murder) मामले में पुलिस (Police) ने उसकी ही मां को गिरफ्तार (Arrest) किया है.

  • Share this:
रायगढ़. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के रायगढ़ (Raigad) जिले में एक नवजात की हत्या (Murder) मामले में पुलिस (Police) ने उसकी मां को गिरफ्तार (Arrest) किया है. पुलिस का दावा है कि 5 दिन के नवजात को उसकी ही मां ने मौत के घाट उतार दिया. इतना ही नहीं आरोपी युवती ने अपना जुर्म (Crime) छिपाने की भी कोशिश की. हालांकि रायगढ़ की लैलूंगा पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी युवती अपने प्रेमी के साथ लिव-इन रिलेशन में रायगढ़ में रह रही थी. इसी दौरान वो प्रेग्नेंट हुई और पिछले सप्ताह बच्चे को जन्म दिया.

रायगढ़ पुलिस (Raigad Police) से मिली जानकारी के मुताबिक, युवती ने जन्म देने के 5वें दिन ही नवजात का गला घोंटकर हत्या कर दी. इसके बाद शव को तालाब में फेंक दिया. लैलूंगा थाना प्रभारी ने बताया कि वारदात छिपाने के लिए युवती ने बच्चा चोरी हो जाने का बहाना बनाया और इस बात को लेकर खूब हंगामा भी किया. संदेह होने पर जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

गर्भपात कराना चाहती थी युवती
लैलूंगा पुलिस के मुताबिक, आरोपी थाना क्षेत्र के रामपुर भेड़ीमुड़ा का रहने वाला खेमराज भगत एक साल पहले रायगढ़ आकर गाड़ी चलाने लगा. यहां उर्दना निवासी मोनिका भगत (20) से उसका प्रेम प्रसंग हो गया. कुछ दिन रायगढ़ में रहने के बाद खेमराज और मोनिका भेड़ीमुड़ा आए और यहीं रहने लगे. 2019 में मोनिका गर्भवती हो गई थी और 6 जनवरी को उसने बेटे को जन्म दिया. बीते शनिवार की शाम खेमराज छेरछेरा त्योहार मनाने के बाद गांव में घूम रहा था. शाम 7 बजे के करीब मोनिका ने शोर मचाकर बताया कि उसके नवजात बेटे को कोई उठा ले गया. इस पर गांव के लोग और खेमराज ने रात भर मासूम की खोजबीन की, लेकिन वो नहीं मिला. इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी. खेमराज ने पुलिस को बताया कि मोनिका गर्भवती होने के बाद ही गर्भपात का दबाव बना रही थी, लेकिन उसके परिवार वालों को बच्चे से कोई समस्या नहीं थी. पूछताछ में आरोपी युवती ने बेटे का मुंह दबाकर घर पास ही तालाब में फेंके जाने की बात पुलिस को बताई.
ये भी पढ़ें:-



अंडा करी बनाने को लेकर पति-पत्नी के बीच विवाद, फिर दोनों की मिली लाश 

बलरामपुर में 15 साल की किशोरी बनी मां, मामा ने दर्ज कराया रेप का जुर्म 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज