लाइव टीवी

हर साल बढ़ रहे कैंसर के 20 हजार नए मरीज, इस वजह से किसान भी हो रहे शिकार

Mamta Lanjewar | News18 Chhattisgarh
Updated: November 8, 2019, 9:35 AM IST
हर साल बढ़ रहे कैंसर के 20 हजार नए मरीज, इस वजह से किसान भी हो रहे शिकार
डॉक्टर का मानना है कि स्कीन और लंग्स कैंसर के मरीज सबसे ज्यादा बढ़ रहे हैं. (File Photo)

हर साल कितने मरीज बढ़ रहे है कि इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि पुराने कैंसर अनुसंधान केंद्र (Cancer Research Center) और वार्डों में मरीजों को जब जगह कम पड़ने लगी तो नया भवन बनाया गया. लेकिन अब भी हालात ऐसे हैं कि ओपीडी में पैर रखने की जगह नहीं बचती, वॉर्ड फुल हो गए हैं.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कैंसर (Cancer) के आंकड़े लगातार भयावह हो रहे हैं. अभी राज्य में करीब 75 हजार के करीब कैंसर के मरीज हैं. वहीं इसमें हर साल 20 हजार मरीजों (Cancer Patient) की बढ़ोतरी हो रही है. गंभीर बात ये है कि लगातार किसान (Farmer) कैंसर के मरीज बनते जा रहे हैं. प्रदेश में भी कैंसर की बीमारी भयावह रूप लेती जा रही है. स्थिति ये है कि राज्य के क्षेत्रीय कैंसर अनुसंधान केंद्र में हर साल कितने मरीज बढ़ रहे है कि इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि पुराने कैंसर अनुसंधान केंद्र और वार्डों में मरीजों को जब जगह कम पड़ने लगी तो नया भवन बनाया गया. लेकिन अब भी हालात ऐसे हैं कि ओपीडी में पैर रखने की जगह नहीं बचती, वॉर्ड फुल हो गए हैं.

राज्य के क्षेत्रीय कैंसर अनुसंधान के प्रमुख डॉ. विवेक चौधरी के मुताबिक अभी राज्य में  करीब 75 हजार कैंसर के मरीज हैं. वहीं हर साल 20 हजार मरीज बढ़ रहे हैं. क्षेत्रीय कैंसर अनुसंधान केंद्र के प्रमुख डॉ. विवेक चौधरी का कहना है कि अभी यहां 60 हजार मरीजों का इलाज किया जा रहा है, जिसमें हर साल 6 हजार नए मरीज आते हैं.

किसान भी हो रहे शिकार

वहीं लगातार पैस्टीसाइड (Pesticide) का इस्तेमाल किसानों के लिए जानलेवा साबित हो रहा है. किसान भी कैंसर के मरीज बने जा रहे हैं. वहीं ऐसे फसल, फल और सब्जियों के इस्तेमाल से लोगों में भी कैंसर का खतरा बढ़ता जा रहा है. वहीं सबसे ज्यादा स्थिति खराब हो रही है फैक्ट्री से निकलने वाले जहरीले धुएं और फैक्ट्रियों का जहरीला पानी नदी नालों में बहाने से. क्षेत्रीय कैंसर अनुसंधान केंद्र के प्रमुख डॉ. विवेक चौधरी का मानना है कि इससे न केवल स्कीन और लंग्स कैंसर के मरीज सबसे ज्यादा बढ़ रहे है, बल्कि महिलाओं में स्तन (Brest Cancer) और यूट्रस कैंसर (Uterus Cancer) की स्थिति भी अब लगातार आम होती जा रही है.

 विशेषज्ञ की राय

वहीं किसान भी मानते हैं कि कीटनाशकों का प्रयोग उनकी मजबूरी है. इससे उनकी सेहत भी बिगड़ी है. आम लोगों का कहना है कि सरकार को इस भयावह स्थिति पर संज्ञान लेना चाहिए. तो वहीं राज्य के कृषि विश्वविद्यालय के विशेषज्ञ डॉ. एसके दास का मानना है कि कीटनाशक उत्पादन को जहरीला बना देते हैं. यही वजह है कि अब जैविक खेती (Organic Farming) के लिए किसानों को प्रेरित किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: 
Loading...

धान खरीदी विवाद: कांग्रेस ने केंद्र को दी आर्थिक नाकेबंदी की धमकी, BJP ने किया पलटवार 

भूपेश सरकार के प्रमोशन में आरक्षण के फैसले को चुनौती, हाईकोर्ट में पहली याचिका दायर  

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 9:34 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...