लाइव टीवी

बारिश में खराब हो सकता है 27 लाख मीट्रिक टन धान, मौसम विभाग की चेतावनी बेअसर
Raipur News in Hindi

News18 Chhattisgarh
Updated: February 8, 2020, 6:11 PM IST
बारिश में खराब हो सकता है 27 लाख मीट्रिक टन धान, मौसम विभाग की चेतावनी बेअसर
लापरवाही से खराब हो सकता है धान.

अब हालात ऐसे है कि धान खरीदी केन्द्रों में अव्यवस्था सर चढ़ कर बोल रहा है. टोकन, लिमिटेशन तय करने से पहले भी किसान हताश और परेशान हुए, अब उनकी परेशानी मौसम ने भी बढ़ा दी है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) को धान का कटोरा कहा जाता है, लेकिन यहां सबसे ज्यादा धान की बर्बादी हर साल होती है. सरकार चाहे कोई भी हो अन्न का एक-एक दाना खरीदने की बात तो करती है, मगर एक बेमौसम बारिश सरकार और खास कर खाद्य विभाग (Food Department) की पोल खोल कर रख देती है. धान खरीदी केन्द्रों में रखे धान भीग कर बर्बाद होने की कगार पर है और जवाबदार अधिकारी आंखे मूंदे हुए हैं. जानकारों की मानें तो 15 सालों तक भाजपा सत्ता में रही, लेकिन किसानों की नाराजगी की वजह से भाजपा (BJP) को सत्ता से दूर होना पड़ा. इधर, कांग्रेस (Congress) सरकार के धान पर बोनस के ऐलान के बाद किसानों ने सरकार पर भरोसा किया. अब हालात ऐसे है कि धान खरीदी केन्द्रों में अव्यवस्था सर चढ़ कर बोल रहा है. टोकन, लिमिटेशन तय करने से पहले भी किसान (Farmer) हताश और परेशान हुए, अब उनकी परेशानी मौसम ने भी बढ़ा दी है.

7 दिनों में 15 लाख मेट्रिक टन धान की कैसे होगी खरीदी

राज्य सरकार ने इस साल 85 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी करने का लक्ष्य रखा है. पिछले साल 80 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई थी.  इस वर्ष 70 लाख 30 हजार 338 मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है. राज्य के मिलरों को 33 लाख 58 हजार 275.90 लाख मीट्रिक टन धान दिया गया है. वहीं उपार्जन केन्द्रों में 27 लाख 51 हजार 294 लाख मेट्रिक टन धान बाहर में रखा हुआ है. धान के एवज में 14 लाख 68 हजार 728 मीट्रिक टन चावल जमा हो चुका है.

chhattisgarh news, cg news, raipur news, paddy purchase, paddy purchase in chhattisgarh, minister amarjeet bhagat, amarjeet bhagat statement on paddy purchase, छत्तीसगढ़ न्यूज, सीजी न्यूज, रायपुर न्यूज, धान खरीदी, छत्तीसगढ़ में धान खरीदी, धान खरीदी का समय, छत्तीसगढ़ में धान खरीदी का समय, धान खरीदी पर मंत्री अमरजीत भगत का बयान, धान खरीदी पर खाद्य मंत्री का बयान, धान खरीदी पर सियासत
राज्य सरकार ने इस साल 85 लाख मेट्रिक टन धान खरीदी करने का लक्ष्य रखा है.


मंत्री ने दिए निर्देश

खाद्य मंत्री अमरजीत भगत ने शनिवार को मंदिर हसौद सहित आरंग के धान खरीदी केन्द्रों का निरीक्षण किया. धान खरीदी केन्द्र समिति प्रबंधकों को धान के रख रखाव के लिए आवश्यक निर्देश दिए. खाद्यमंत्री ने कहा कि धान खरीदी की तारीख बढ़ाया जाएगा या नहीं ये कैबिनेट में तय होगा. तो दूसरी ओर किसानों के धान अभी भी खलिहान में है और भीग रहे है. धान खरीदी की अंतिम तारीख 15 फरवरी है. समयसीमा खत्म हो रही है, धान बरसात में भीग रहा है. ऐसे में किसानों को काफी परेशानी इस बात से हो रही है कि चार दिनों से धान बरसात की वजह से बीक नहीं पा रहा.
 

ये भी पढ़ें: 

कोरोना वायरस का असर: सामान खरीदने चीन जाने से कतरा रहे व्यापारी, मार्केट में छाई मंदी 

भीमा मंडावी हत्याकांड: दूसरी बार बढ़ा न्यायिक आयोग का कार्यकाल, जांच रिपोर्ट पर उठा था सवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 6:07 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर