डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर 30 लाख रुपये की ठगी

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी का मामला सामने आया है.

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: May 26, 2019, 1:25 PM IST
डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर 30 लाख रुपये की ठगी
Demo Pic.
Raghwendra Sahu
Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: May 26, 2019, 1:25 PM IST
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी का मामला सामने आया है. मामले की शिकायत पंडरी थाने में दर्ज कराई गई है. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है. 25 करोड़ रुपये का लोन दिलाने के नाम पर 30 लाख रुपये की ठगी करने आरोप लगा है. शिकायतकर्ता ने दावा किया है कि लोन के लिए उसने दो किश्त में आरोपियों को 30 लाख रुपये दिये.

आयश अग्रवाल नाम के व्यक्ति ने 30 लाख रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत पुलिस से की गई है. आयश अग्रवाल एल्युमिनियम और यूपीवीसी का व्यापार करता है. ठगी करने का आरोप मुकेश पांडेय और गिरिराज सिंह पूरन पर लगा है. ये दोनों पश्चिम कृषि प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर बताये जा रहे हैं. आरोपियों ने डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर 2 किश्त में 30 लाख रुपये अपने खाते में जमा कराने के बाद भी लोन नहीं दिलाया. दोनों आरोपी दिल्ली के रहने वाले बताये जा रहे हैं.



ये भी पढ़ें: रायपुर: 9 में से 6 विधानसभा में कांग्रेसी विधायक, फिर भी लोकसभा में मिली करारी हार 

ये भी पढ़ें: जीत के बाद अब छत्तीसगढ़ से कौन सा चेहरा होगा 'टीम मोदी' में शामिल?

ये भी पढ़ें: CM भूपेश और मंत्री टीएस सिंहदेव के गढ़ में BJP प्रत्याशियों की बड़ी जीत  

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स  
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...