अपना शहर चुनें

States

छत्तीसगढ़: सड़क हादसों में रायपुर 'अव्वल', 2018 में हुई 427 लोगों की मौत!

demo pic
demo pic

बढ़ते सड़क हादसों को देखते हुए राजधानी के 22 स्थानों को ब्लैक स्पॉट घोषित किया गया है. वहीं राज्य हाईवे में 2 स्थान के साथ-साथ शहर के प्रमुख तीन स्थानों को ब्लैक स्पॉट घोषित किया गया है.

  • Share this:
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर एक्सीडेंट कैपिटल बनते जा रहा है. लोगों की लापरवाही जानलेवा साबित हो रही है. पिछले साल सड़क हादसों में चार हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो गई. तेज रफ्तार और नियमों की अनदेखी लोगों के लिए महंगी साबित हो रही है. हादसों पर लगाम लगाने सड़क सुरक्षा जैसे अभियान चलाए जा रहे है लेकिन ये कारगर साबित नहीं हो रहे है. वाहन चालक नियमों की धज्जियां उड़ा रहे है जिसका नतीजा काफी खतरनाक साबित हो रहा है.

बात अगर साल 2018 की करें तो सड़क हादसों के मामले में रायपुर पूरे छत्तीसगढ़ में सबसे अव्वल है. दूसरे नंबर पर बिलासपुर है. यातायात सीएसपी सतीश कुमार ठाकुर ने जानकारी देते हुए बताया कि छत्तीसगढ़ के 27 जिलों में साल 2018 में 13825 सड़क दुर्घटनाओं में 4557 लोगों की मौत हुई है. 12 हजार 655 लोग इन हादसों में घायल हुए है. रायपुर जिले में सबसे अधिक 2075 सड़क दुर्घटना हुई जिसमे 427 लोगों की मौत हुई. दुसरे स्थान पर बिलासपुर है जहां 1344 दुर्घटना में 315 की हुई मौत. सूकमा में 70 सड़क दुर्घटना जिसमे 30 लोगों की मौत हुई. कुल 12 हजार 655 घायल भी हुए है.

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बीते एक वर्ष में 26 हजार 475 लोग सड़क दुर्घटनाओं का सीधा सीधा शिकार हुए. वहीं कई परिवार अप्रत्यक्ष रुप से प्रभावित भी हुए. बढ़ते सड़क हादसों को देखते हुए राजधानी के 22 स्थानों को ब्लैक स्पॉट घोषित किया गया है. वहीं राज्य हाईवे में 2 स्थान के साथ-साथ शहर के प्रमुख तीन स्थानों को ब्लैक स्पॉट घोषित किया गया है.



ये भी पढ़ें:
छत्तीसगढ़: रायपुर से लापता दोनों बच्चों का तालाब में मिला शव 

देवभोग की 3 बेटियों ने गोल्ड पर किया कब्जा, बनीं अंतरराष्ट्रीय कराटे चैंपियन 

कस्टमर सेटिस्फेक्शन कैटेगरी में रायपुर का विवेकानंद एयरपोर्ट फिर देश में नंबर-1 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज