हाथियों की मौत का मामला: छत्तीसगढ़ सरकार की बड़ी कार्रवाई, हटाए गए 8 DFO
Raipur News in Hindi

हाथियों की मौत का मामला: छत्तीसगढ़ सरकार की बड़ी कार्रवाई, हटाए गए 8 DFO
सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है. (File Photo)

पीसीसीएफ अतुल शुक्ला,प्रशिक्षण डीएफओ कोरिया राजेश कुमार चंदेले, डीएफओ धरमजयगढ़ प्रियंका पाण्डेय, प्रणय मिश्रा डीएफओ बलरामपुर, इमोतेसु आओ डीएफओ बलरामपुर सहित 8 अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में हुए हाथियों के मौत के मामले में राज्य सरकार ने एक बड़ी कार्रवाई की है. वन विभाग के कई अधिकारियों के हटा दिया गया है. मालूम हो कि हाथियों के मौत पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) ने कड़ी नाराजगी जाहिर की थी. इसके बाद अब ये बड़ी कार्रवाई की गई है. जानकारी के मुताबिक पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ सहित 8 डीएफओ को हटाया गया है. पीसीसीएफ अतुल शुक्ला,प्रशिक्षण डीएफओ कोरिया राजेश कुमार चंदेले, डीएफओ धरमजयगढ़ प्रियंका पाण्डेय,
प्रणय मिश्रा डीएफओ बलरामपुर, इमोतेसु आओ डीएफओ बलरामपुर सहित 8 अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है. इसके साथ ही वन विभाग में बड़ा फेरबदल किया गया है. पीवी नरसिंग राव को नया पीसीसीएफ वाइल्ड लाइफ बनाया गया है. तो वहीं मणिवासन को डीएफओ धरमजयगढ़ और गणवीर धम्शील को केशकास का डीएफओ बनाया गया है.

मालूम हो कि हाल ही में छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में वन विभाग ने एक हाथी का शव बरामद किया था. इस तरह राज्य में पिछले 10 दिन में 6 हाथियों की मौत हो चुकी है. रायगढ़ जिले के वन विभाग के अधिकारियों ने बताया था कि धरमजयगढ़ क्षेत्र में बुधवार सुबह एक हाथी का शव बरामद किया गया. पिछले तीन दिन में इस क्षेत्र में हाथी का शव मिलने की यह दूसरी घटना है. धरमजयगढ़ क्षेत्र की वन मंडलाधिकारी ने बताया था कि रायगढ़ से करीब 50 किलोमीटर दूर बेहरामार गांव में एक नर दंतैल हाथी का शव बरामद हुआ है. हाथी का शव एक किसान के घर के पीछे मिला है.

पहले करंट लगने से हो चुकी है मौत
रायगढ़ जिले के धरमजयगढ़ क्षेत्र के गिरीशा गांव में मंगलवार को वन विभाग ने एक हाथी का शव बरामद किया था. अधिकारियों के मुताबिक हाथी की मृत्यु करंट लगने के कारण हुई थी. इस मामले में बिजली विभाग के तीन कर्मियों समेत पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है. छत्तीसगढ़ में पिछले 10 दिन में छह हाथियों की मौत हो गई है. राज्य के सूरजपुर जिले के प्रतापपुर वन परिक्षेत्र में नौ और 10 जून को वन विभाग ने दो हाथियों का तथा 11 जून को बलरामपुर जिले में एक हाथी का शव बरामद किया था.



ये भी पढ़ेंझारखंड राज्यसभा चुनाव: एक सीट पर BJP का कब्जा, दूसरे पर JNM की जीत

तीन कर्मचारियों और एक वन रक्षक निलंबित

लगातार तीन हाथियों की मौत के बाद राज्य शासन ने बलरामपुर जिले में वन विभाग के तीन कर्मचारियों और एक वन रक्षक को निलंबित कर दिया था. वहीं, बलरामपुर के वनमंडल अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. मामले की जांच की जा रही है. बीते मंगलवार को धमतरी जिले के मोंगरी गांव के दलदल में हाथी के एक बच्चे का शव बरामद किया गया था.

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading