लाइव टीवी

सरकार का दावा: नया रायपुर में बनेगी शानदार फिल्म सिटी, तैयारी होगी ये खास पॉलिसी
Raipur News in Hindi

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: February 8, 2020, 2:15 PM IST
सरकार का दावा: नया रायपुर में बनेगी शानदार फिल्म सिटी, तैयारी होगी ये खास पॉलिसी
सरकान ने नई फिल्म नीति बनाने की भी बात कही है. (Demo PIc)

वहीं, फिल्म नीति को लेकर मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि फिल्म नीति छत्तीसगढ़ी फिल्मों को नई दशा-दिशा देगी.

  • Share this:
रायपुर. छत्तीसगढ़ी फिल्मों (Chhattisgarh Cinema) में जान फूंकने और छत्तीसगढ़ में फिल्मों को बढ़ावा देने राज्य सरकार ने राजधानी रायपुर (Raipur) से सटे नया रायपुर (Naya Raipur) क्षेत्र में दो सौ एकड़ में भव्य फिल्म सिटी (Film City) बनाने का निर्णय लिया है. फिल्म सिटी के साथ ही राज्य सरकार फिल्म नीति भी तैयार कर रही है, जिसमें फिल्मों को मिलने वाले अनुदान से लेकर फिल्मों की दशा-दिशा तय करने की नीति तैयार की जाएगी. सरकार के संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत (Minister Amarjeet Bhagat) ने जानकारी देते हुए कहा कि नया रायपुर में ऐसा फिल्म सिटी बनाया जाएगा जो राज्य के लिए मील का पत्थर साबित होगा. साथ ही यह भी कहा कि जो भी छत्तीसगढ़ घूमने के लिए आएगा वह बिना फिल्म सिटी देखे जा ही नहीं पाएगा, वहीं फिल्म नीति को लेकर मंत्री ने कहा कि फिल्म नीति छत्तीसगढ़ी फिल्मों को नई दशा-दिशा देगी, सरकार के निर्णय के ना केवल फिल्मों को संजीवनी मिलेगी बल्कि रोजगार के भी साधन बढ़ेंगे.


फिल्म सिटी की जरूरत नहीं- फिल्म समीक्षक





छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ी फिल्मों की स्थिति बेहद ही नाजुक है. साल 2019 में बने कुल 19 छत्तीसगढ़ी फिल्मों में एक्का-दुक्का को छोड़ अन्य फिल्मों की चर्चा तक नहीं हुई. आलम यह है कि फिल्म निर्माताओं को लागत निकालना तक मुश्किल हो रहा है. ऐसे में बड़ा सवाल यही है कि ऐसी जमीनी हकीकत के बीच फिल्म सिटी का निर्माण कितना कारगर साबित होगा. फिल्म समीक्षक अनिरूद्ध दुबे ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ को फिलहाल छत्तीसगढ़ी सीनेमा को बचाने की जरूरत है. अनुदान देने की जरूरत है. फिल्म ज्यादा से ज्यादा व्यवसाय करे इसलिए सुविधा उपलब्ध कराने की जरूरत है. ऐसे में सरकार को चाहिए कि फिल्म सिटी बनाने से पहले जिलों में छोटे-छोटे टॉकिज, थियेटर बनाना चाहिए जिससे छत्तीसगढ़ी फिल्मों को उचित स्थान मिले. साथ ही यह भी कहा कि फिल्म सिटी और फिल्म नीति दोनों राज्य के फिल्मी विकास में मददगार साबित होगी. मगर पहले सुई की जरूरत हो तो सुई का ही निर्माण होना चाहिए ना कि तलवार का.




फिल्म समीक्षक अनिरूद्ध दुबे ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ को फिलहाल छत्तीसगढ़ी सीनेमा को बचाने की जरूरत है.




बीजेपी का सरकार पर तंज


छत्तीसगढ़ में 15 सालों तक राज करने वाली बीजेपी ने फिल्म सिटी बनाने के निर्णय पर तंज कसा है. न्यूज 18 से बात करते हुए बीजेपी प्रवक्ता गौरीशंकर श्रीवास ने कहा कि सरकार की नियत और नीति दोनों में खोट है, इसलिए इस तरह की बातें कागजों में ही सिमट कर रह जाएगी. सरकार अगर सच में ईमानदार है तो बयानों से आगे बढ़कर धरातल पर कार्य कर के दिखाए, जिससे राज्य का भला हो.




सरकार के संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि नया रायपुर में ऐसा फिल्म सिटी बनाया जाएगा.



भूपेश बघेल के मुख्यमंत्री बनने से बढ़ा उत्साह




छत्तीसगढ़ और छत्तीसगढ़ी को बढ़ावा देने वाले राज्य के मुखिया भूपेश बघेल से फिल्मकारों की उम्मीदें बढ़ी है. बीते दिनों मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों और साथियों के साथ टॉकिज जाकर छत्तीसगढ़ी फिल्म देखी थी, वैसे भी भूपेश बघेल के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही छत्तीसगढ़ी को लगातार प्रमोट किया जा रहा है, इसलिए यह उम्मीद लगाई जा रही है कि भले ही छत्तीसगढ़ी फिल्मों को वर्तमान गर्दिश में हो मगर आने वाले कल जरूर उज्जवल होगा.

ये भी पढ़ें: 






News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रायपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 2:15 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर