जनता के नाम शपथ-पत्र देकर चुनाव में उतरेंगे आप के प्रत्याशी

आम आदमी पार्टी के सभी विधानसभा प्रत्याशी शपथ-पत्र देकर चुनावी समर में उतरेंगे.वह यह शपथ-पत्र आम जनता को दे रहे हैं.इस अपने शपथ पत्र में उनका कहना था कि जो वादे उन्होंने किए हैं जीत कर आने के बाद पूरा नहीं करने पर आम जनता द्वारा उन्हें हटा दिया जाए.

Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: September 12, 2018, 9:43 PM IST
जनता के नाम शपथ-पत्र देकर चुनाव में उतरेंगे आप के प्रत्याशी
शपथ-पत्र की जानकारी देते प्रदेश संयोजक आप संकेत ठाकुर
Raghwendra Sahu
Raghwendra Sahu | News18 Chhattisgarh
Updated: September 12, 2018, 9:43 PM IST
आम आदमी पार्टी के सभी विधानसभा प्रत्याशी शपथ-पत्र देकर चुनावी समर में उतरेंगे.वह यह शपथ-पत्र आम जनता को दे रहे हैं.इस अपने शपथ पत्र में उनका कहना था कि जो वादे उन्होंने किए हैं जीत कर आने के बाद पूरा नहीं करने पर आम जनता द्वारा उन्हें हटा दिया जाए.आम आदमी पार्टी ने जहां छत्तीसगढ़  में राज्य स्तर की प्रमुख समस्याओं जैसे बेरोजगारी,शराबबंदी, धान का समर्थन मूल्य 26 सौ रुपये करने, संविदा नियुक्ति दूर कर सभी रेगुलर करने, स्थानीय युवाओं को 90 प्रतिशत रोजगार जैसे बातों को लेकर 13 बिंदुओं को शपथ पत्र दिया है.वहीं सभी विधानसभा स्तर पर प्रत्याशी क्षेत्रीय समस्याओं को दूर करने का शपथ पत्र दिए हैं.

दिल्ली में बड़े बहुमत के साथ सत्तारूढ़ और पंजाब-हरियाणा में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने वाली आम आदमी पार्टी अब छत्तीसगढ़ में अपने पैर जमाने के लिए जनता का विश्वास जीतने को एक नई पहल  करने जा रही है.आप ने चुनाव से पूर्व जितने भी विधान सभा चुनाव के प्रत्याशी हैं,उनसे एक शपथ-पत्र जनता के समक्ष प्रस्तुत करने को कहा गया है कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तो बेरोजगारी दूर की जाएगी. स्थानीय 90 प्रतिशत स्थानीय को पहले मौका दिया जाएगा.बिहार-गुजरात की तरह शराबबंदी की जाएगी. धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 26सौ के अलावा संविदा वाले सब रेग्युलर किए जाएंगे.अगर किए वायदे पूरे ना हों तो उन्हें हटा दिया जाए.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर