चायनीज सामान का विरोध करने के चलते बन जाएगा विश्‍व रिकॉर्ड!

Raghwendra Sahu | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 14, 2017, 12:27 AM IST
चायनीज सामान का विरोध करने के चलते बन जाएगा विश्‍व रिकॉर्ड!
न्‍यूज़18/ईटीवी से बातचीत करते हुए रमन कुमार.
Raghwendra Sahu | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: September 14, 2017, 12:27 AM IST
चायनीज सामानों के विरोध और पब्लिक ट्रांसपोर्ट से भारत भ्रमण पर निकले एक ट्रैवलर का जुनून उन्‍हें गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड की ओर ले जा रहा है. राजस्थान के रमन कुमार अपनी नौकरी छोड़कर भारत घूमने निकले हैं.

बचपन से ही देश-दुनिया घूमने की ख्वाहिश रखने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने अपने इसी जूनून के लिए नौकरी छोड़ दी और पिछले एक साल से लगातार हिन्दुस्तान के अलग-अलग शहरों की सैर कर रहे हैं. पहले बाइक पर हिन्दुस्तान की सैर और अब पिछले 55 दिनों से ट्रेन, बसों जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट पर
सफर करते हुए लोगों को चायनीज सामानों के बहिष्कार का संदेश दे रहे हैं.

रमन कुमार अपनी यात्रा के तहत 19वें राज्य छत्तीसगढ़ में राजधानी रायपुर पहुंचे थे. मस्तमौला रमन का मानना है कि लोगों ने साइकिल, बाइक, कार जैसे साधनों का इस्तेमाल करके घूमने का रिकार्ड बनाया है, लेकिन किसी ने भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करके किसी एक देश के सभी राज्यों की यात्रा

नहीं की है और वे अपनी यात्रा के द्वारा गिनीज बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड में नाम अवश्य दर्ज कराएंगे.

कहते हैं कि यदि मन में इच्छा हो तो कुछ भी करना असंभव नहीं है. अगर अपनी पसंद का कोई काम मिले तो रास्ता आसान हो जाता है और मंजिल नजदीक नजर आती है. रमन कुमार के साथ भी ऐसा ही कुछ है.
First published: September 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर