विधानसभा मानसून सत्र: लोक आयोग ने 6 अफसरों पर की कार्रवाई की अनुशंसा

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में अरुण वोरा के सवालों का जवाब देते हुए बताया कि राज्य के 6 अफसरो के खिलाफ कार्रवाई की अनुशंसा लोक आयोग ने की है.

Surendra Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: July 12, 2019, 12:39 PM IST
विधानसभा मानसून सत्र: लोक आयोग ने 6 अफसरों पर की कार्रवाई की अनुशंसा
छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र.
Surendra Singh | News18 Chhattisgarh
Updated: July 12, 2019, 12:39 PM IST
छत्तीसगढ़ विधानसभा का मानसून सत्र शुक्रवार से शुरू हो गया. सत्र के शुरुआत में दिवंगत सदस्य भीमा मंडावी को श्रद्धांजलि दी गई. इसके बाद आगे की कार्रवाई शुरू हुई. सवालों का जवाब भी दिया गया. इस दौरान सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच हल्की नोकझोक भी हुई. एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बताया कि प्रदेश के छह अफसरों पर कार्रवाई की अनुशंसा लोक आयोग ने की है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में अरुण वोरा के सवालों का जवाब देते हुए बताया कि राज्य के 6 अफसरो के खिलाफ कार्रवाई की अनुशंसा लोक आयोग ने की है. इनमें भारतीय प्रशासनिक सेवा के अफसर एनएस मंडावी, हीरालाल नायक, सेवानिवृत्त अफसर जे मिंज, वन अफसर एसएस बजाज, पुलिस अफसर मुकेश गुप्ता के अलावा एक महिला अफसर रेणु पिल्ले भी शामिल हैं. सभी पर अलग अलग मामलों में कार्रवाई की अनुशंसा की गई है.



नक्सल समस्या
मानसून सत्र के पहले दिन जोगी कांग्रेस के विधायक दल के नेता धरमजीत सिंह ने सदन में सभी दिवंगत सदस्यो की श्रद्धांजलि दी. भीमा मंडावी को श्रृद्धांजलि देते हुए कहा कि राजनीतिक हत्याओं में दुनिया में सबसे ज्यादा हत्याएं छत्तीसगढ़ में हुई हैं. नक्सल हिंसा की समस्या को दूर करने की ओर सोचना पड़ेगा. वरिष्ठ सदस्य बृजमोहन अग्रवाल ने भीमा मंडावी की मौत को लेकर सदन में कहा कि नक्सलवाद की समस्या से निपटने के लिए ठोस कदम उठाने की आवश्यकता है.

ये भी पढ़ें:

प्रशासनिक लापरवाही से बेघर हुई महिला, मकान की किश्त के लिए काट रही दफ्तरों के चक्कर 

छत्तीसगढ़: रायपुर एयरपोर्ट पर बढ़ सकती है बर्ड हिट की घटना, ये है वजह
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...