सफाईकर्मी बच्चू लाल की मौत पर राजनीतिक गलियारों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू

Surendra Singh | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: November 15, 2017, 4:42 PM IST
सफाईकर्मी बच्चू लाल की मौत पर राजनीतिक गलियारों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू
सफाईकर्मी बच्चू लाल की मौत के बाद कांग्रेस के जांच दल ने रिपोर्ट पीसीसी को सौंपी
Surendra Singh | ETV MP/Chhattisgarh
Updated: November 15, 2017, 4:42 PM IST
छत्तीसगढ़ में कबीरधाम जिले के पांडातरई नगर पंचायत के सफाईकर्मी बच्चू लाल की मौत के बाद राजनीतिक गलियारों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है. वहीं मामले में कांग्रेस के जांच दल ने अपनी जांच पूरी कर रिपोर्ट पीसीसी को सौंप दी है.

दरअसल, बीते 8 नवबंर को पांडातरई नगर पंचायत के सफाईकर्मी बच्चू लाल ने कबीरधाम मुख्यमंत्री निवास के सामने खुद को आग लगा ली थी. बाद में सफाईकर्मी को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

मौत के बाद कांग्रेस ने अब अपनी राजनीतिक तीर छोड़नी शुरू कर दी है. कांग्रेस ने इस मामले की जांच के लिए 7 सदस्यीय जांच दल का गठन कर जांच की है. अपनी जांच में कांग्रेस ने कलेक्टर और नगर पंचायत सीएमओ को दोषी ठहराया है.

लिहाजा, पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे ने मुख्यमंत्री से मृतक बच्चू लाल के परिजनों को मुआवजा के साथ उसकी पत्नी को नौकरी दिए जाने की मांग की है.

वहीं पूर्व मंत्री मोहम्मद अकबर ने इस पूरे मामले में मुख्यमंत्री से इस्तीफे की भी मांग की है. साथ ही पूरे प्रकरण की जांच की मांग सरकार से की है. वहीं बीजेपी के पदाधिकारी भी इस घटना में शामिल हैं उनपर भी कड़ी कार्रवाई करने की मांग सरकार से की है.

गौरतलब है कि बच्चू लाल ने कवर्धा स्थित मुख्यमंत्री आवास कार्यालय में खुद के ऊपर पेट्रोल डालकर आग लगा ली थी, जिसमें वह 50-60 फीसदी तक झुलस गया था.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर