CM भूपेश बघेल ने PM मोदी को लिखा खत, छत्तीसगढ़ी को 8वीं अनुसूची में शामिल करने की मांग
Raipur News in Hindi

CM भूपेश बघेल ने PM मोदी को लिखा खत, छत्तीसगढ़ी को 8वीं अनुसूची में शामिल करने की मांग
सीएम भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को खल लिखा है. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने छत्तीसगढ़ी भाषा (Chhattisgarhi language) को 8वीं अनुसूची में शामिल करने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखा है. सीएम बघेल का कहना है कि सूबे के पौने तीन करोड़ जनता की भावना इससे जुड़ी है. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 15, 2020, 7:26 PM IST
  • Share this:
रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (CM Bhupesh Bagehl) ने छत्तीसगढ़ी भाषा को प्राथमिकता से आठवीं अनुसूची में शामिल करने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखा है. अपने खत में सीएम बघेल ने पीएम मोदी से आग्रह किया है कि भारतीय गणतंत्र का 26वां राज्य छत्तीसगढ़ के गठन का यह बीसवां साल है, लेकिन सांस्कृतिक दृष्टि से इस राज्य की पृथक पहचान का इतिहास बहुल प्राचीन है. छत्तीसगढ़ राज्य की भाषा छत्तीसगढ़ी (Chhattisgarhi language) का भी इतिहास है. यह विशेष उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ी का व्याकरण हीरालाल काव्योपाध्याय ने तैयार किया था, जिसका संपादन और अनुवाद प्रसिद्ध भाषाशास्त्री जार्ज ए. ग्रियर्सन ने किया था, जो सन 1890 में जर्नल ऑफ द एशियाटिक सोसायटी ऑफ बंगाल में प्रकाशित हुआ था. यही नहीं छत्तीसगढ़ का विपुल और स्तरीय साहित्य उपलब्ध है तथा इसमें निरंतर वृद्धि हो रही है.

छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ी की उपबोलियां तथा कुछ अन्य भाषाएं भी प्रचलन में हैं, लेकिन राज्य की बहुसंख्या जनता की भाषा और अन्य क्षेत्रीय बोलियों के साथ संपर्क भाषा छत्तीसगढ़ी ही है. राज्य में राजकीय प्रयोजनों के लिए प्रयुक्त की जाने वाली भाषा के रूप में हिन्दी के अतिरिक्त छत्तीसगढ़ी को अंगीकार किया गया है. साथ ही राज्य में प्रतिवर्ष 28 नवम्बर को छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस मनाया जाता है. जनभावना और आवश्यकता के अनुरूप राज्य के विचारों की परम्परा और राज्य की समग्र भाषायी विविधता के परिरक्षण, प्रचलन और विकास आदि के लिए छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग का भी गठन किया गया है.

ये भी पढ़ें: Independence Day: राजस्थान के 2 होमगार्ड अफसर विशिष्ठ सेवा पदक से होंगे सम्मानित 



आठवीं अनुसूची में शामिल करने का अनुरोध
सीएम भूपेश बघेल ने लिखा, छत्तीसगढ़ी को आठवीं अनुसूची में शामिल करने के संबंध में केन्द्र शासन द्वारा यह अवगत कराया जाता रहा है कि छत्तीसगढ़ी सहित देश की अन्य भाषाओं को आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाना विचाराधीन है. इस परिप्रेक्ष्य में छत्तीसगढ़ राज्य की पौने तीन करोड़ जनता की भावना के अनुरूप आपसे अनुरोध है कि छत्तीसगढ़ी की भाषा समृद्धि और जनभावना को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ी को प्राथमिकता से आठवीं अनुसूची में शामिल किया जाना आवश्यक है. कृपया इस पर विचार कर राज्य की जनता की भावनाओं के अनुरूप त्वरित और सकारात्मक निर्णय लेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading