छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने भी लगाई मीसा बंदियों के पेंशन पर रोक

छत्तीसगढ़ में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस ने मीसा बंदियों को बड़ा झटका दिया है. राज्य सरकार ने मीसा बंदियों को मिलने वाली प्रतिमाह पेंशन पर रोक लगा दी है.

Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: January 29, 2019, 1:02 PM IST
छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार ने भी लगाई मीसा बंदियों के पेंशन पर रोक
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, (फाइल फोटो)
Awadhesh Mishra | News18 Chhattisgarh
Updated: January 29, 2019, 1:02 PM IST
छत्तीसगढ़ में 15 साल बाद सत्ता में आई कांग्रेस ने मीसा बंदियों को बड़ा झटका दिया है. राज्य सरकार ने मीसा बंदियों को मिलने वाली प्रतिमाह पेंशन पर रोक लगा दी है. सरकार ने मीसा बंदियों को पेंशन के लिए समीक्षा और सत्यापन करने के निर्देश जारी किए हैं. सत्यापन तक पेंशन रोकने के निर्देश बैंकों को जारी कर दिए गए हैं. सरकार ने नए वित्तिय वर्ष में मामले में नए सिरे से निर्णय लेने की बात कही है.

बता दें कि मध्यप्रदेश में सत्ता में आने के बाद कमलनाथ सरकार ने मीसा बंदियों के पेंशन पर पहले ही रोक लगा दी है. अब प्रदेश की भूपेश सरकार ने मीसा बंदियों के पेंशन पर रोक लगाने का निर्णय लिया है. सरकार के इस निर्णय के बाद प्रदेश की राजनीति गरमाने की पूरी संभावना है. मीसा बंदियों के पेंशन पर रोक लगाने पर विपक्ष सत्ता पक्षा को घेर सकती है.

बता दें कि देश में आपातकाल के दौरान राजनीति विरोधियों को जेल में बंद किया गया था. इन्हीं मीसा बंदियों को प्रदेश की तत्कालीन भाजपा सरकार ने पेंशन देने का निर्णय लिया और प्रति मीसा बंदी 15 हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन देने की व्यवस्था की गई. छत्तीसगढ़ में करीब तीन सौ मीसा बंदियों को पेंशन दिया जाता है.

ये भी पढ़ें: जादू-टोने के शक में बहू ने सास को कुएं में फेंका, इस तरह बची जान 

ये भी पढ़ें: पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह तक​ पहुंचा झीरम नरसंहार की जांच का दायरा 

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी का वादा- लोकसभा चुनाव जीते तो हर गरीब को मिलेगी मिनीमम इनकम गारंटी 

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...